Asianet News Hindi

कोरोना पॉलिटिक्स: प्रियंका ने पूछा-सरकार कर क्या रही है, नकवी ने कहा-कोरोना का इलाज संभव, कांग्रेस का नहीं

देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर राजनीति होने लगी है। अस्पतालों में बेड और ऑक्सीजन की कमी को लेकर विपक्षी दल केंद्र सरकार को घेरने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे। कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने इस मामले पर मोदी सरकार पर सवाल उठकर पूछा है कि आखिर सरकार कर क्या रही है? इसके जवाब में केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि कोरोना का इलाज हो सकता है, कांग्रेस का नहीं।
 

Corona Case and Politics in India, Priyanka Gandhi and BJP statement kpa
Author
New Delhi, First Published Apr 21, 2021, 11:59 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. देश में कोरोना संक्रमण को लेकर राजनीति तेज होने लगी है। खासकर कांग्रेस केंद्र सरकार को घेरने में लगी है। अस्पतालों में बेड और ऑक्सीजन की कमी पर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने मोदी सरकार पर सवाल उठकर पूछा है कि आखिर सरकार कर क्या रही है? इसके जवाब में केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि कोरोना का इलाज हो सकता है, कांग्रेस का नहीं।

प्रियंका गांधी ने बयान दिया है
ये सरकार दुबई में ISI से बात कर सकती है, विपक्ष के नेताओं से बात नहीं कर सकती? मैं नहीं मानती कि आज विपक्ष का एक भी नेता ऐसा है जो इन्हें पॉजिटिव और रचनात्मक तरीके से सुझाव नहीं दे रहा है। मैं सकारात्मक तरीके से कह रही हूं कि भगवान के लिए सरकार कुछ करे। उनके पास जितने संसाधन हैं, उन्हें वो कोरोना की लड़ाई में लगाएं। अगर केंद्र सरकार अपना मन बनाए तो अभी भी ऑक्सीजन की सुविधा बनाई जा सकती है। 

हर जगह से ऐसी रिपोर्ट आ रही हैं कि समझ में ही नहीं आ रहा कि ये सरकार क्या कर रही है? शमशान घाटों पर इतनी भीड़ लगी है, लोग कूपन लेकर खड़े हैं। हम इस स्थिति में सोच रहे हैं कि हम क्या करें। जो सरकार को करना चाहिए था, वो सरकार नहीं कर रही है। कितनी बड़ी त्रासदी है कि देश में ऑक्सीजन उपलब्ध है, लेकिन जहां पहुंचना चाहिए वहां पहुंच नहीं पा रहा है। पिछले 6 महीने में 1.1 मिलियन रेमडेसिविर इंजेक्शन का निर्यात हुआ है और आज हमारे पास इंजेक्शन की कमी है।

आज देशभर से रिपोर्ट आ रही हैं कि बेड, ऑक्सीजन, रेमडेसिविर, वेंटिलेटर की कमी है। पहली वेव और दूसरी वेव के बीच हमारे पास तैयारी करने के कई महीने थे। भारत की ऑक्सीजन प्रोडक्शन कैपेसिटी दुनिया में सबसे बड़ी है, ऑक्सीजन को ट्रांसपोर्ट करने की सुविधा नहीं बनाई गई। सरकार ने जनवरी से मार्च महीने में कोरोना वायरस की 6 करोड़ वैक्सीन निर्यात की और इसी समय में 3-4 करोड़ भारतीयों को वैक्सीन दी। आपने भारतीयों को प्राथमिकता क्यों नहीं दी? 

प्रियंका गांधी को भाजपा ने दिया यह जवाब
प्रियंका गांधी के बयान पर केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकबी ने कहा-इस पार्टी का इतना गैरजिम्मेदाराना व्यवहार कभी नहीं देखा। इनकी पार्टी में बहुत नेता रहे हैं, लेकिन कभी ऐसा नहीं हुआ। हम भी विपक्ष में रहे हैं, लेकिन कभी ऐसा व्यवहार नहीं किया। ये भ्रम के स्कोर में लगे हुए हैं। कोरोना का इलाज हो सकता है, कांग्रेस का इलाज नहीं है।  उनका रचनात्मक सुझाव आया था कि हाहाकार मचा हुआ है, लोगों की चिंता नहीं है, एक साल में प्रधानमंत्री ने कुछ नहीं किया। क्या ये सारी चीजें आकाश से टपक कर आई हैं? 

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा-जब राजनीति नहीं होनी चाहिए, तब कांग्रेस पार्टी और खासतौर पर गांधी परिवार राजनीति कर रहा है। प्रियंका गांधी ने एक इंटरव्यू में जिस प्रकार से आलोचना की है, वह देश देख रहा है। देश उनको जवाब देगा। गांधी परिवार का घमंड इस आपदा के समय देश के सामने झलक रहा है। 
देश में घबराहट, अफरातफरी और फेक न्यूज फैलाने की कोशिश की जा रही है। महाराष्ट्र ने जैसे असंवेदनशीलता दिखाई उसका नतीजा है कि आज लगभग 40-50% मामले एक ही राज्य से आ रहे हैं। प्रियंका जी, आज महाराष्ट्र की सरकार जो कर रही है, उस पर आपके भाई एक शब्द नहीं बोल रहे हैं। छत्तीसगढ़ में यह स्थिति इसलिए है, क्योंकि वहां की सरकार ने इसे नियंत्रित नहीं किया। वहां के CM प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहते हैं कि हम वैक्सीनेशन नहीं कराएंगे। क्या यह हकीकत नहीं कि पंजाब, छत्तीसगढ और राजस्थान की सरकार ने प्रेस रिलीज जारी की थी कि हम कोवैक्सीन नहीं लेंगे।

भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय ने कहा-प्रधानमंत्री ने देश के सभी मुख्यमंत्रियों से बात की, अगर प्रियंका गांधी जी को सुझाव देना है तो अपने दल के मुख्यमंत्री को दें। इस प्रकार सिर्फ विपक्ष पर आरोप लगाना उचित नहीं है। आरोप लगाने से पहले सबको ।

यह भी जानें
देश में कोरोना संक्रमण की स्पीड ने फिर से रिकार्ड तोड़ दिया है। भारत में अब तक के रिकॉर्ड 2,94,115 नए केस सामने आए हैं। अब तक 1,56,09,004 केस सामने आ चुके हैं। इस समय देश में 21,50,119 एक्टिव केस हैं। एक दिन में 1,66,520 लोग रिकवर हुए। अब तक 1,32,69,863 लोग रिकवर हो चुके हैं। पिछले 24 घंटे में 2,020 लोगों की मौत हो चुकी है। अब तक 1,82,570 लोगों की मौत हो चुकी है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios