Asianet News HindiAsianet News Hindi

Corona और पॉल्युशन का असर: अब दिल्ली में सावर्जनिक जगहों पर छह पूजा पर बैन, पटाखे पहले से ही बंद हैं

corona Virus के मद्देनजर दिल्ली में सावर्जनिक जगहों पर छठ पूजा पर बैन लगा दिया गया है। पिछले साल भी दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण(DDMA) ने छठ पूजा घर से मनाने को कहा था।

corona guidelines, Chhath Puja banned in public places in Delhi
Author
New Delhi, First Published Sep 30, 2021, 3:47 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. corona Virus का असर दूसरे साल तीज-त्यौहारों पर पड़ रहा है। छठ पूजा को लेकर दिल्ली सरकार ने एक सख्त फैसला लिया है। इस बार भी दिल्ली में सावर्जनिक जगहों पर छठ पूजा का कार्यक्रम नहीं हो सकेगा। त्यौहारों को लेकर दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण(DDMA) नई गाइडलाइन जारी कर दी है। यह 15 नवंबर तक प्रभावी रहेगी। इस अवधि में छह पूजा से लेकर दशहरा-दीपावली सभी त्यौहार आ रहे हैं। दिल्ली में पॉल्युशन के चलते पहले से ही पटाखे बैन हैं।

छठ पूजा 8 नवंबर से शुरू होगी
दिल्ली सरकार ने पिछले साल भी छठ पूजा सार्वजनिक जगहों पर नहीं होने दी थी। वहीं, पटाखे चलाने पर भी सख्ती दिखाई थी। बता दें छठ पूजा दीपावली के छह दिन बाद से शुरू होती है। इस बार यह 8 नवंबर से शुरू होगी, जो 4 दिनों तक चलेगी।

मेलों पर भी रोक
दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण(DDMA) की नई गाइडलाइन के अनुसार दिल्ली में त्यौहारों के सीजन में मेले-फूड स्टॉल्स, झूले-रैलियां आदि सबकुछ बैन रहेगा। वहीं, नदी-मंदिरों आदि सार्वजनिक जगहों पर छह पूजा नहीं की जा सकेगी।

पॉल्युशन भी एक बड़ी समस्या
दिल्ली में पॉल्युशन भी एक बड़ी समस्या है। इसे देखते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 15 सितंबर को tweet करके बताया था कि इस साल भी दीपावाली पर पटाखे नहीं चलाए जा सकेंगे। दिल्ली में पिछले 3 साल से यह बैन लगा हुआ है।

देश में कोरोना का हाल
पिछले 24 घंटों में 28,718 रोगियों के ठीक होने के साथ ही स्वस्थ होने वाले मरीजों (महामारी की शुरुआत के बाद से) की कुल संख्या बढ़कर 3,30,14,898 हो गई है। नतीजतन, भारत में स्वस्थ होने की दर 97.85% है।स्वस्थ होने की दर मार्च,2020 के बाद से उच्चतम स्तर पर है। 

लगातार कम हो रहा कोरोना का असर
केंद्र और राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा निरंतर और सहयोगात्मक रूप से किए जा रहे प्रयासों के फलस्वरूप पिछले 95 दिनों से लगातार 50,000 से कम दैनिक नए कोविड मामले दर्ज किए जा रहे हैं।  पिछले 24 घंटे में 23,529 नए मरीज सामने आए हैं।  वर्तमान में 2,77,020 सक्रिय रोगी हैं। वर्तमान में ये सक्रिय मामले देश के कुल पुष्टि वाले मरीजों का 0.82 प्रतिशत हैं। 

यह भी पढ़ें
भारत में corona वैक्सीनेशन का आंकड़ा 88.34 करोड़ के पार, रिकवरी रेट 97.85%
किसान आंदोलन में हाईवे जाम पर सुप्रीम कोर्ट ने उठाए सवाल, कहा: संसद में बहस, कोर्ट में सुलझ सकता है मसला
Punjab Elections 2022: केजरीवाल ने किया ऐलान कि अगर बनी AAP की सरकार, ताे मिलेगा मुफ्त में इलाज और अनाज
राजस्थान को मिले 4 नए मेडिकल कॉलेज: PM बोले-'2014 तक 6 AIIMS थे, आज 22; हमने आत्मनिर्भरता का संकल्प लिया है'

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios