Asianet News Hindi

लॉकडाउन नहीं होता तो अब तक 2 लाख लोग होते संक्रमित, अभी 7447 केस, 1 लाख से अधिक आइसोलेशन बेड

भारत में कोरोना के 7447 संक्रमित मरीज सामने आ चुके हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया, अब तक 642 लोग ठीक हो चुके हैं। कल 1035 नए मामले सामने आए हैं, जिससे देशभर में कुल मामले बढ़कर 7447 हो गई है।

Corona has 7447 infected and 239 deaths in India on 11 April kpn
Author
New Delhi, First Published Apr 11, 2020, 4:32 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. भारत में कोरोना के 7447 संक्रमित मरीज सामने आ चुके हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया, अब तक 642 लोग ठीक हो चुके हैं। कल 1035 नए मामले सामने आए हैं, जिससे देशभर में कुल मामले बढ़कर 7447 हो गई है। कल 40 नई मौतें हुए हैं जिससे मरने वालो की संख्या बढ़कर 239 मौतें हो चुकी हैं। 

कोरोना के लिए 586 अस्पताल, 1 लाख से अधिक आइसोलेशन बेड
लव अग्रवाल ने बताया, कोरोना संक्रमण से बचने के लिए भारत ने तेजी से तैयारी की है। देश में 586 कोरोना महामारी समर्पित अस्पताल और 1 लाख से अधिक आइसोलेशन बेड और 11,500 आईसीयू बेड हैं।

लॉकडाउन नहीं होता तो 2 लाख लोग हो जाते संक्रमित 

गृह मंत्रालय ने कहा, कोरोना से लड़ने के लिए लॉकडाउन और रोकथाम के उपाय महत्वपूर्ण हैं। अगर हमने कोई उपाय नहीं किया होता तो हमारे पास इस समय 2 लाख मामले आ सकते थे। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि अगर लॉकडाउन न होता तो अब तक 45 हजार केस होते और अगर कोई एहतियात न बरती जाती तो मरीज बढ़कर 2 लाख हो गए होते।

171718 सैंपल टेस्ट किए गए

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, 11 अप्रैल तक 1,71,718 सैंपल के टेस्ट किए गए हैं। कल 16764 टेस्ट किए गए। प्राइवेट लैब की संख्या 67 है।

गृह मंत्रालय ने कहा, डॉक्टरों को सुरक्षा प्रदान करें
गृह मंत्रालय ने कहा, राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को पत्र लिखकर अनुरोध किया है कि डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ को आवश्यकता अनुसार सुरक्षा प्रदान करें। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios