Asianet News Hindi

यूरोप में कोरोना की दूसरी लहर, आयरलैंड में फिर लगा 6 हफ्तों का लॉकडाउन; इटली-स्पेन में भी प्रतिबंध

यूरोप में कोरोना वायरस से अब तक 2.5 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। यूरोपीय देशों में कोरोना वायरस की दूसरी लहर का असर भी दिखने लगा है। यहां लगातार बढ़ रहे संक्रमण को देखते हुए देश में प्रतिबंध बढ़ने लगे हैं। यरोप में इस हफ्ते कोरोना केसों में 44% की वृद्धि हुई है। 

corona live update Europe surges past 250000 covid 19 deaths countries ease strict lockdowns KPP
Author
New Delhi, First Published Oct 21, 2020, 1:39 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

यूरोप. यूरोप में कोरोना वायरस की दूसरी लहर का कहर जारी है। यूरोपीय देशों में इस महामारी से अब तक 2.5 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। यूरोपीय देशों में लगातार बढ़ रहे संक्रमण के केसों के चलते प्रतिबंध बढ़ने लगे हैं। यरोप में इस हफ्ते कोरोना केसों में 44% की वृद्धि हुई है। फ्रांस में रात को कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया गया है। वहीं, स्विट्जरलैंड में लोगों से मास्क पहनने की अपील की गई है। आईए जानते हैं कि यूरोपीय देशों में कहां कैसे प्रतिबंध लगाए गए हैं।

ब्रिटेन: ब्रिटेन में 7.62 लाख केस सामने आ चुके हैं। अब तक 43967 लोगों की मौत हो चुकी है। मौत के मामले में ब्रिटेन यूरोप में सबसे ज्यादा प्रभावित है। यहां यूरोप में हुईं कुल मौतों में 1/5 लोगों ने जान गंवाई है। ब्रिटेन में लगातार बढ़ रहे केसों को देखते हुए वेल्स में 22 अक्टूबर से 2 हफ्ते का सर्किट ब्रेक लॉकडाउन लगाया जा रहा है। वहीं, एन आयरलैंड में पब्स और रेस्टोरेंट को बंद कर दिया गया है। इंग्लैंड में करीबब 50% आबादी पर स्थानीय प्रशासन द्वारा प्रतिबंध लगाए गए हैं। 

फ्रांस: फ्रांस में रविवार को करीब 30 हजार नए केस सामने आए। यहां शनिवार को रिकॉर्ड 32 हजार 427 केस सामने आए थे। वहीं, यहां आईसीयू की कुल क्षमता 5800 है। इनमें से 1900 भरे हुए हैं। पेरिस समेत 9 बड़े शहरों में सरकार ने रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू लगाया है। कर्फ्यू नियमों को तोड़ने पर 158 डॉलर यानी करीब 11618 रुपए का फाइन लगेगा। 

आयरलैंड: आयरलैंड यूरोप का पहला देश बन गया है, जहां दोबारा लॉकडाउन लगाने का ऐलान किया गया है। आयरलैंड में बुधवार से लॉकडाउन लगेगा। लोगों से घरों पर रहने की अपील की गई है। जबकि स्कूल खुले रहेंगे। 6 हफ्तों के इस लॉकडाउन में सभी गैर जरूरी दुकानें और बिजनेस बंद रहेंगे। बार और रेस्टोरेंट सिर्फ टेक अवे की सुविधा दे सकेंगे। लोगों सिर्फ घर से 5 किमी दूर तक एक्सरसाइज करने जा सकेंगे। 

इटली: इटली के कैमपेनिया में केंद्र सरकार से रात्रि कर्फ्यू के लिए अनुमति मांगी गई है। जबकि लॉम्बार्डी में हर रात को 11 बजे से सुबह 5 बजे तक लॉकडाउन लगाया गया है। इटली में तेजी से कोरोना के केस बढ़ रहे हैं। लॉम्बार्डी और कैमपेनिया में स्थानीय प्रशासन ने चेतावनी दी है कि हालात काफी खराब होते जा रहे हैं। यहां तक की कैमपेनिया के मेयर ने कहा कि शहर में सिर्फ 15 आईसीयू बेड बचे हैं। 

पोलैंड : पोलैंड में गुरुवार को 9291 नए केस सामने आए हैं। यहां डॉक्टरों ने सरकार और प्रशासन से हेल्थ सिस्टम को लेकर और सपोर्ट की मांग की है। यहां हाल ही में एक कोरोना संक्रमित मरीज की मौत हो गई, उसे समय से अस्पताल में एडमिट नहीं कराया जा सका। 

जर्मनी/ हंगरी: हंगरी में कोरोना की दूसरी लहर तेजी से फैल रही है। यहां इस महीने पिछले चार महीनों की तुलना में काफी ज्यादा मौतें हुई हैं। उधर, जर्मनी में कुछ इलाकों में मंगलवार से लॉकडाउन का ऐलान किया गया है। यहां स्कूल, नर्सरी, रेस्टोरेंट को बंद करने का फैसला किया गया है। लोगों से घर पर रहने के लिए कहा गया है। वहीं, ग्रीस में सोमवार को 438 नए केस सामने आए हैं। 

बेल्जियम : यहां 4 हफ्तों के लिए कैफे और रेस्टोरेंट बंद करने का फैसला किया गया है। रात 12 बजे से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू रहेगा। वहीं, स्विट्जरलैंड में 15 से ज्यादा लोगों के इकट्ठा होने पर रोक लगाई गई है। स्पेन में भी मैड्रिड समेत अन्य शहरों में आंशिक लॉकडाउन का ऐलान किया गया है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios