नई दिल्ली. वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के देश में पिछले 24 घंटों में 70000 से ज्यादा संक्रमित मिले और करीब 85000 से ज्यादा लोग ठीक हुए हैं। इसके साथ ही संक्रमण के मामले 62 लाख के करीब पहुंच गए हैं। इनमें 51 लाख के करीब लोग अबतक ठीक हो चुके हैं। सोमवार को वायरस से  775 लोगों की मौतें हुई तो वहीं देश में कुल मरने वालों की संख्या 96,000 के पार हो गई है। हालांकि स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ो के मुताबिक पहले की तुलना में अब कोरोना के मरीज जल्दी ठीक हो रहे हैं क्योंकि देश में कोरोना की रेपिड टेस्टींग बढ़ने की वजह से रिकवरी रेट भी 82 प्रतिशत हो गया है।

दुनिया का इकलौता देश है भारत जहां 50 लाख से ज्यादा मरीज हुए ठीक 

देश में कोरोना संक्रमण को लेकर अच्छी और बुरी खबरें सामने आई हैं। अच्छी बात यह कि देश में संक्रमण से ठीक होने वालों का आंकड़ा रविवार को 50 लाख के पार कर गया। यह आंकड़ा स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी किया गया। भारत दुनिया का इकलौता देश है, जहां इतने ज्यादा मरीज ठीक हो चुके हैं। देश का रिकवरी रेट भी 82.74% हो चुका है। मतलब अब हर 100 मरीजों में 82 लोग ठीक हो रहे हैं। लेकिन बुरी खबर यह कि देश में पिछले 27 दिनों से एक हजार से ज्यादा मौतें हो रही हैं। 31 दिसंबर को 816 मरीजों ने दम तोड़ा था। इसके बाद एक से 27 सितंबर तक एक भी दिन ऐसा नहीं रहा, जब मौतें एक हजार से कम हुई हों। हालात ऐसे हैं कि रोजाना औसतन 1066 लोग की जान जा रही है। यह दुनिया के सबसे संक्रमित देश अमेरिका और ब्राजील के रोजाना के एवरेज से ज्यादा है। देश में अब तक 60 लाख 73 हजार 348 केस हो चुके हैं। रविवार को 74 हजार 679 मरीज ठीक भी हुए।