मुंबई. महाराष्ट्र में कोरोना महामारी से निपटने के लिए केंद्रीय सुरक्षाबल की 20 अतरिक्त कंपनियां तैनात की जा रही हैं। इनमें से मुंबई में 10 कंपनियों को लगाया जा रहा है। सीएम उद्दव ठाकरे ने पीएम मोदी के साथ कोविड19 की समीक्षा बैठक के दौरान सेंट्रल फोर्स की मांग की थी। उन्होंने कोरोना की वजह से महाराष्ट्र के पुलिसकर्मियों के संक्रमित होने और आने वाल ईद के त्योहार के मद्देनजर केंद्रीय बल की मांग की थी। 

पुलिसकर्मियों को दिया गया आराम
पुलिसकर्मियों को आराम देने के लिए केंद्रीय सुरक्षाबल की तैनाती की जा रही है। मुंबई में जोन-1 में कोलाबा से मरीन ड्राइव, जोन-3 में तारदेओ, नागपाड़ा, वर्ली से एन. एम. जोशी मार्ग तक, जोन-5 में धारावी से लेकर दादर तक, जोन-6 में चेंबूर से मानखुर्द, जोन-9 में बांद्रा से अम्बोली (अंधेरी वेस्ट) तक कंपनियां तैनात की जाएंगी।

पहले से तैनात है केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल
महाराष्ट्र में पहले से भी केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की 32 कंपनियां तैनात हैं और वे महाराष्ट्र पुलिस के साथ मिलकर काम कर रही हैं।

मुंबई में कोरोना के सबसे ज्यादा 21,335 केस
देश में कोरोना के केस 1,02,046 हो चुके हैं। इसमें महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 35,058 केस हो चुके हैं। 1249 लोगों ने वायरस से दम तोड़ दिया है। जबकि 8437 लोग ठीक हो चुके हैं। सिर्फ मुंबई में ही कोरोना से 21,335 केस हैं। वहीं 757 लोगों की मौत हो चुकी है। राज्य में पिछले 24 घंटे के अंदर महाराष्ट्र में कोरोना के 2033 मामले सामने आए और 51 लोगों की मौत हुई है।