Asianet News HindiAsianet News Hindi

Covid-19 :देश में 12 करोड़ लोगों को नहीं लगी दूसरी डोज, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री बोले- जारी रखें लड़ाई

वैक्सीनेशन के दौरान दूसरे डोज में छूटे हुए लोगों को लेकर मोदी सरकार गंभीर है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने गुरुवार को राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों से कहा कि उन 12 करोड़ लोगों को दूसरी डोज लगवाएं, जिनके टीके की तारीख ड्यू हो गई है।

Covid 19 Vaccination Second dose Mansukh mandaviya
Author
New Delhi, First Published Nov 11, 2021, 7:03 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। देश में करीब 12 करोड़ ऐसे लोग हैं, जिन्हें कोविड-19 (Covid-19) वैक्सीन (Vaccine) का पहला डोज लग चुका है, लेकिन दूसरा डोज नहीं लगा है। इसे लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने गुरुवार को राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ वर्चुअली बैठक की। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई अंतिम चरण में है। महामारी के पूरी तरह खत्म होने से पहले सुरक्षा उपाय कम नहीं करने चाहिए। उन्होंने सभी राज्यों से वैक्सीनेशन (Vaccination) का दायरा बढ़ाने और 12 करोड़ से अधिक उन लोगों को वैक्सीन लगवाने का अनुरोध किया, जिन्होंने अब तक सेकंड डोज (Second dose) नहीं ली है। गौरतलब है कि देश में  74.81 करोड़ लोगों को पहला, जबकि 35.96 करोड़ लोगों को दूसरा डोज लग चुका है। देश में वैक्सीनेशन का आंकड़ा एक अरब पार कर चुका  है। 

79 फीसदी लोगों को मिली पहली डोज 
मांडविया ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा कि सभी वयस्कों को हर घर दस्तक' अभियान के दौरान वैक्सीन की पहली खुराक मिले। कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई अंतिम चरण में है। टीकाकरण के दो हथियार और सीएबी (कोविड-19 उपयुक्त व्यवहार) इसके खिलाफ हमारी सबसे बड़ी रक्षा होगी और हमें इसे पूरी तरह खत्म होने से पहले अपने सुरक्षा उपायों को कम नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा कि वर्तमान में 79 प्रतिशत वयस्क आबादी को टीके की पहली खुराक मिल चुकी है और 38 प्रतिशत को दूसरी खुराक भी मिल चुकी है। उन्होंने कहा- प्रयास हैं कि देश में कोई भी पात्र नागरिक कोविड-19 टीके के सुरक्षा कवच के बिना न रहे। 

टीकाकरण संदेश बढ़ाने बच्चों को आगे लाएं 
मांडविया ने कहा कि व्यवहार परिवर्तन के लिए बच्चे सबसे अच्छे दूत हो सकते हैं। उन्होंने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से पूर्ण टीकाकरण के संदेश को आगे बढ़ाने के लिए उन्हें (बच्चों) शामिल करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि हम बस स्टेशनों, रेलवे स्टेशनों आदि पर, विशेष रूप से बड़े महानगरों में कोविड टीकाकरण केंद्र शुरू करें, क्योंकि ये बड़ी संख्या में लोगों के शहर में प्रवेश करने के प्राथमिक बिंदु हैं। कुछ राज्यों ने 'रोको और टोको' अभियान शुरू किया है, जहां बसों, ट्रेनों, रिक्शा आदि से उतरने वाले यात्रियों को टीके की खुराक लेने के लिए प्रेरित किया जाता है।  

कई देशों में बढ़ रहे मामले 
सिंगापुर, जर्मनी, ब्रिटेन, रूस और चीन में 80 प्रतिशत से अधिक टीकाकरण के बावजूद मामले फिर से बढ़ रहे हैं। जर्मनी में बुधवार को ही फिर से लॉकडाउन की बात सामने आई है। यहां एक दिन में 39 हजार से ज्यादा केस सामने आए हैं। अमेरिका में कोविड से अब तक 7 लाख से अधिक मौतें हो चुकी हैं। भारत में यह आंकड़ा 4 लाख से अधिक है। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios