Asianet News Hindi

देश में कोरोना: 24 घंटे में बढ़े 10000 केस, मौतें भी करीब दोगुनी, WHO ने तीसरी लहर की चेतावनी दी

देश में पिछले 24 घंटे में करीब 10000 केस बढ़ गए। बीते दिन 44 हजार के करीब मामले सामने आए हैं। वहीं, मौतें भी 930 हुईं, जबकि 5 जुलाई को यही आंकड़ा 552 था। इस बीच WHO ने डेल्टा वेरिएंट को लेकर सतर्क रहने को कहा है।

Current status of corona infection in India and alert for third wave kpa
Author
New Delhi, First Published Jul 7, 2021, 9:57 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर को लेकर लापरवाही भारी पड़ सकती है, लिहाजा सतर्क रहें! पिछले 24 घंटे में एक बार फिर 10000 मामले बढ़ गए। पिछले दिनों 44000 के आसपास मामले सामने आए हैं, जबकि यही आंकड़ा 5 जुलाई को 34 हजार के करीब था। 24 घंटे में 930 मौतें हुई हैं, जबकि 5 जुलाई को यही संख्या 552 थी।

केरल में केस बढ़े, महाराष्ट्र में मौतें
देश में पिछले 24 घंटे में सबसे अधिक मामले 14000 केरल में आए। जबकि दूसरे नंबर पर महाराष्ट्र है। यहां 8400 के करीब मामले सामने आए। महाराष्ट्र में मौतें भी सबसे अधिक हुईं। यह आंकड़ा 395 है। मौतों के मामले में केरल दूसरे नंबर है। यहां 142 मौतें हुईं। देश में अब तक 3.06 करोड़ लोग संक्रमित हो चुके हैं। अब तक 2.97 करोड़ लोग ठीक भी हुए हैं। अब तक 4.04 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। इस समय 4.54 लाख एक्टिव केस हैं।

देश में  सैम्पलिंग 
भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के अनुसार, भारत में कल कोरोना वायरस के लिए 19,07,216 सैंपल टेस्ट किए गए, कल तक कुल 42,33,32,097 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को वैक्सीन की 37.43 करोड़ से ज़्यादा (37,43,25,560) डोज़ उपलब्ध कराई गई है। आज सुबह 8 बजे तक उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार इसमें से वेस्टेज सहित कुल खपत 35,75,98,947 डोज़ है।

तीसरी लहर की चेतावनी
विश्व स्वास्थ्य संगठन(WHO) ने दुनियाभर को कोरोना के नए वेरिएंट डेल्टा को लेकर चेतावनी जारी की है। कहा गया है कि अन्य वेरिएंट की तुलना में डेल्ट कहीं अधिक खतरनाक है। इससे संक्रमण का ज्यादा अंदेशा है। खासकर भारत सहित पूरे महाद्वीप में डेल्टा वेरिएंट का खतरा मंडरा रहा है।

सोमवार को एसबीआई रिसर्च ने कोविड-19: द रेस टू फिनिशिंग लाइन शीर्षक से एक रिपोर्ट पब्लिश की है। इसके हिसाब से अगस्त में तीसरी लहर आ सकती है। सितंबर में यह पीक पर होगी। इसमें वैक्सीनेशन को ही एकमात्र बचाव बताया गया है।

यह भी पढ़ें
देश में कोरोना: 111 दिनों में सबसे कम 34 हजार केस, SBI ने किया अलर्ट-अगस्त में आ सकती है तीसरी लहर

 

pic.twitter.com/pzeiSr7UBw

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios