Asianet News HindiAsianet News Hindi

डिफेंस इंडिया स्टार्टअप चैलेंज 5.0: भारतीय सेना को और पावरफुल बनाने की पहल, रक्षा मंत्री ने किया उद्घाटन

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज Defense India Startup Challenge 5.0 का शुभारंभ किया। इसका मकसद भारतीय सेना को और सक्षम बनाना है।

Defense Minister Rajnath Singh to launch Defense India Startup Challenge 5.0
Author
New Delhi, First Published Aug 19, 2021, 11:08 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. डिफेंस इंडिया स्टार्टअप चैलेंज 1.0 (DISC) के तीन साल बाद, इनोवेशन फॉर डिफेंस एक्सीलेंस (आई-डेक्स), डिफेंस इनोवेशन ऑर्गनाइजेशन (DIO) ने आज नई दिल्ली में डीआईएससी 5.0 (Defense India Startup Challenge 5.0) की शुरुआत की। इसका उद्घाटन रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने किया। बता दें कि आई-डेक्स रक्षा और एयरोस्पेस क्षेत्रों में विभिन्न स्टार्टअप के लिए एक मंच देता है। यह विशिष्ट क्षेत्र में प्रौद्योगिकी विकास और संभावित सहयोग की निगरानी के लिए एक अम्ब्रेला संगठन के रूप में कार्य करता है।

https://t.co/C1ZnGGdfvB

रक्षा क्षेत्र में काफी उपयोगी है
डीआईएससी राउंड 5 के तहत सेवाओं और रक्षा सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों (डीपीएसयू) से प्राप्त समस्या विवरण रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा लॉन्च किए गए। सचिव (रक्षा उत्पादन) राज कुमार के अनुसार,आई-डेक्स को सैन्य युद्ध में नवीनतम तकनीक को शामिल करने के लिए डिजाइन किया गया था, जो सेवाओं की जरूरतों के साथ करीबी से जुड़ा हुआ है और आयात पर निर्भरता को कम करता है।

निकट भविष्य में सैन्य लाभ सुनिश्चित करने के लिए सेवाओं और डीपीएसयू द्वारा समस्या विवरण तैयार किए गए हैं। विजेताओं को आई-डेक्स से 1.5 करोड़ रुपये तक का अनुदान मिलता है। साथ ही पार्टनर इन्क्यूबेटरों से समर्थन और नोडल अधिकारियों से मार्गदर्शन मिलता है जो अंतिम उपयोगकर्ता हैं।

रक्षा मंत्रालय ने वित्तीय वर्ष 2021-2022 के लिए आई-डेक्स पहल के माध्यम से घरेलू खरीद के लिए कुल 1,000 करोड़ रुपये निर्धारित किए हैं। हाल ही में रक्षा मंत्री ने रक्षा और एयरोस्पेस क्षेत्रों में 300 से अधिक स्टार्टअप और नवाचार को बढ़ावा देने के लिए अगले पांच वर्षों के लिए 498.8 करोड़ रुपये के बजट को मंजूरी दी थी। इन घोषणाओं ने युवा उद्यमियों द्वारा विकसित किए जा रहे असंख्य नवाचारों और उत्पादों के लिए घरेलू खरीद का आश्वासन प्रदान किया है, जबकि भारत के रक्षा क्षेत्र को 2025 तक 5-ट्रिलियन अर्थव्यवस्था लक्ष्य की दिशा में महत्वपूर्ण योगदान देने में सक्षम बनाया है।

यह भी पढ़ें
18 साल के इस कलाकार ने सोचा 'चलो कुछ नया करते हैं' और लकड़ी से बना दिया पुरी का यह अद्भुत 'जगन्नाथ मंदिर'
Taliban Is Back: अफगानिस्तान से निकाले गए भारतीय; MEA ने हेल्पलाइन नंबर ओर ईमेल जारी किया

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios