Asianet News HindiAsianet News Hindi

दिल्ली में नई आबकारी नीति के विरोध में जगह-जगह चक्काजाम व प्रदर्शन, BJP के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता अरेस्ट

दिल्ली में आबकारी नीति के विरोध में भाजपा के प्रदर्शन के चलते NH 9 पर लंबा जाम लग गया। इस मामले में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष आदेश को अरेस्ट किया गया है। भाजपा धार्मिक स्थलों और स्कूलों के करीब शराब की दुकानें खोलने का विरोध कर रही है।

Delhi Excise Policy, BJP's protest, National Highway jammed KPA
Author
New Delhi, First Published Jan 3, 2022, 11:08 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. दिल्ली में आबकारी नीति के विरोध में सोमवार को भाजपा के प्रदर्शन के चलते NH 9 पर लंबा जाम लग गया। सैकड़ों गाड़ियां फंस गईं। पुलिस ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता को अरेस्ट कर लिया है। बता दें कि भाजपा ने दिल्ली सरकार की नई आबकारी नीति (New Excise Policy) के खिलाफ 3 जनवरी को दिल्ली में चक्का जाम (Chakka Jam) का ऐलान किया था। दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता (Adesh Kumar Gupta) ने कहा कि भाजपा किसी भी हाल में नई आबकारी नीति लागू नहीं होने देगी।  भाजपा के विरोध पर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Deputy Chief Minister Manish Sisodia) ने tweet किया-दिल्ली में बीजेपी वाले नई आबकारी नीति से बौखलाए हुए हैं क्योंकि अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में ₹3500करोड़ की चोरी रोक दी। यह पैसा अब जनता के काम के लिए सरकार को मिल रहा है। पहले यह पैसा बीजेपी नेताओं और शराब माफिया की जेब में जाता था।

स्कूलों और धार्मिक स्थलों के आसपास शराब दुकानें खोलने का विरोध
भाजपा धार्मिक स्थलों के पास शराब दुकानें खोलने को लेकर आंदोलित है। भाजपा ने इसके विरोध में दिल्ली के 14 प्रमुख स्थलों पर चक्का जाम किया। इसके चलते लंबा जाम लग गया।  इस मामले में नगर निगम एक्शन में हैं। दक्षिण दिल्ली नगर निगम के महापौर मुकेश सूर्यान ने कहा कि शराब की दुकानें गलत तरीके से खोली गई हैं। इसलिए 24 दुकानों को नोटिस भेजा गया है। वहीं, पूर्वी दिल्ली नगर निगम के महापौर श्याम सुंदर ने कहा कि उनके यहां 8 दुकानें सील गईं, जबकि 70 को नोटिस भेजा गया है। उत्तरी दिल्ली नगर निगम के महापौर राजा इकबाल ने बताया कि उनके क्षेत्र में 10 दुकानें सील की गई हैं, जबकि 21 को नोटिस भेजा गया है।

भाजपा का आरोप
भाजपा शुरू से ही राजधानी दिल्ली में नई आबकारी नीति का विरोध कर रही है। बीजेपी के अनुसार, इससे दिल्ली में शराब की दुकानें बढ़ेंगी। इस नीति में पैसे तय करने से लेकर ब्रांड तय के अधिकार ठेकदारों के पास होंगे। दिल्ली में पहले 250 निजी ठेके थे, नई आबकारी नीति के बाद यह संख्या बढ़कर 850 हो जाएगी। अगर बैंक्वेट हॉल, बार, एयरपोर्ट और बाकी जगहों को गिनें, तो यह संख्या 3000 हो जाएगी।

pic.twitter.com/N4wjhYYhPq

pic.twitter.com/4YWeOkOxs7

यह भी पढ़ें
मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक बोले- घमंडी हैं मोदी, कृषि कानून पर मेरी लड़ाई हो गई थी
रिटायरमेंट के बाद अपने गांव लौटा कारगिल का शेर, 20 किलोमीटर की सम्‍मान यात्रा से हुआ भव्य स्‍वागत

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios