Asianet News HindiAsianet News Hindi

Delhi pollution: दिल्ली की हवा में अभी भी कोई सुधार नहीं; प्रदूषण से बीमार होने लगे हैं लोग; AQI 330

दिल्ली में वायु प्रदूषण  (Air Pollution) में सुधार नहीं आया है। 25 नवंबर को भी ओवरऑल वायु गुणवत्‍ता सूचकांक (air quality index-AQI) 330 दर्ज किया गया। जबकि 24 नवंबर को यही 280 था। इस बीच प्रदूषण के चलते लोगों में तकलीफें बढ़ने लगी हैं।
 

Delhi pollution, AQI is presently at 330 in the Very Poor category, as per SAFAR-India KPA
Author
New Delhi, First Published Nov 25, 2021, 8:12 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. मौसम में बदलाव और तेज हवाओं के रुख से दिल्ली में वायु प्रदूषण  (Air Pollution) में कमी की संभावना जताई जा रही थी, लेकिन ऐसा बिलकुल नहीं हुआ। 25 नवंबर को भी ओवरऑल वायु गुणवत्‍ता सूचकांक (air quality index-AQI) 330 दर्ज किया गया। जबकि 24 नवंबर को यही 280 था। इस बीच प्रदूषण के चलते लोगों में तकलीफें बढ़ने लगी हैं।

मार्निंग वॉक पर निकले शख्स की तबीयत बिगड़ी
दिल्ली की खराब हवा का असर लोगों की सेहत पर पड़ रहा है। हाल में एक 55 वर्षीय शख्स को ऑक्सीजन की कमी के चलते दिल्ली के मैक्स हॉस्पिटल में भर्ती कराना पड़ा। वे मार्निंग वॉक पर निकले थे, तभी उनकी तबीयत खराब हुई। दिल्ली में प्रदूषण के चलते सांस, गले में खराश, जुकाम और सिर दर्द जैसी तकलीफें बढ़ने लगी हैं। डॉक्टरों के अनुसार, प्रदूषण की वजह से लोगों में तकलीफें बढ़ने लगी हैं।

लोग अपने निजी वाहनों से न आएं
पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा-सरकारी कर्मचारियों के लिए सरकारी कॉलोनियों से प्राइवेट बसें चलाई जाएंगी। पास के मेट्रो स्टेशन से शटल बस सर्विस शुरू होगी, जिससे लोग मेट्रो से आएं और आसानी से दफ्तर पहुंचें। उनकी कॉलोनियों से भी बस सेवा शुरू की जाएगी, जिससे लोग अपने निजी वाहन से ना आएं। पिछले 3-4 दिनों से प्रदूषण का स्तर कम हो रहा था, लेकिन आज फिर से प्रदूषण के स्तर में बढ़ोतरी दिख रही है। इसके मद्देनजर आज से कंस्ट्रक्शन का काम रोका जा रहा है। साथ ही मजदूरों को आर्थिक मदद दी जाएगी। इसके लिए एक रूपरेखा तैयार की जा रही है।

सरकार को उम्मीद प्रदूषण में सुधार होगा
इस बीच 24 नवंबर को दिल्ली (Delhi) के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय(Gopal Rai) ने वायु प्रदूषण से निपटने के लिए लगाए गए प्रतिबंधों की समीक्षा की थी। बैठक के बाद उन्होंने बताया कि सीएनजी (CNG) और इलेक्ट्रिक ट्रकों को 27 नवंबर से दिल्ली में प्रवेश करने की अनुमति दी जाएगी। राय ने सरकारी कर्मचारियों से सार्वजनिक परिवहन का उपयोग करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा- हमने हाल ही में निजी सीएनजी (CNG) बसों को किराये पर लिया है। इन बसों का इस्तेमाल आवासीय कॉलोनियों से कर्मचारियों को लाने - ले जाने के लिए किया जाएगा। सरकार अपने कर्मचारियों के लिए दिल्ली सचिवालय से आईटीओ (ITO) और इंद्रप्रस्थ मेट्रो स्टेशनों (Metro Station) के लिए शटल बस सेवा भी शुरू करेगी। पर्यावरण मंत्री ने कहा कि प्रदूषण की स्थिति में सुधार को देखते हुए 29 नवंबर से स्कूल खोल दिए जाएंगे।

सुप्रीम कोर्ट ने लगाई थी फटकार
दिल्ली में पॉल्युशन के मामले पर सुप्रीम कोर्ट(Supreme court) सुनवाई कर रहा है। इस पर 24 नवंबर को भी सुनवाई हुई। दिल्ली-NCR में फैले प्रदूषण पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से कहा है कि मौसम जब गंभीर होता है, तब उपाए किए जाते हैं। वह वायु प्रदूषण मामले को बंद नहीं करेगा और अंतिम आदेश नहीं देगा। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि मामले की गंभीरता को देखते हुए वह इस मामले की सुनवाई करता रहेगा। सुप्रीम कोर्ट मामले की अगली सुनवाई 29 नवंबर को करेगा। 

0 से 50 तक AQI अच्छा 
केंद्रीय प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के मुताबिक एयर क्वालिटी इंडेक्स 0 से 50 के बीच अच्छा माना जाता है। 51 से 100 के बीच यह संतोषजनक और 101 से 200 के बीच मध्यम माना जाता है। 201 से 300 के बीच की श्रेणी को खराब और 301 से 400 के बीच यह बेहद खराब माना जाता है। 400 के बाद की श्रेणी अति गंभीर मानी जाती है। 

यह भी पढ़ें
Delhi pollution: SC की फटकार-जब मौसम खराब होता है, तब उपाय किए जाते हैं, पराली को लेकर नौकरशाही क्या कर रही?
Delhi : राजधानी की एयर क्वालिटी दिवाली के पहले जैसी, 29 नवंबर से खुलेंगे स्कूल-कॉलेज और सरकारी दफ्तर
Winter Season: कश्मीर में बदला अगर मौसम का मिजाज; तो पड़ेगी कड़ाके की ठंड; देखें कुछ PICS

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios