Asianet News HindiAsianet News Hindi

केंद्रीय नेतृत्व के निर्देश पर महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री बनें देवेंद्र फडणवीस

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने गुरुवार को कहा कि देवेंद्र फडणवीस महाराष्ट्र सरकार में शामिल हों। उन्होंने कहा कि भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने तय किया है और निर्देश दिया है कि देवेंद्र फडणवीस उपमुख्यमंत्री बनें। इसके बाद देवेंद्र फडणवीस ने उपमुख्यमंत्री के पद का शपथ ग्रहण किया।

Devendra Fadnavis becomes Deputy CM BJP central team gave instructions JP Nadda vva
Author
New Delhi, First Published Jun 30, 2022, 6:47 PM IST

नई दिल्ली। भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री बने हैं। केंद्रीय नेतृत्व के निर्देश पर उन्होंने डिप्टी सीएम पद का शपथ ग्रहण किया। देवेंद्र फडणवीस ने ट्वीट कर कहा कि एक कार्यकर्ता के रूप में मैं पार्टी के आदेशों का पालन करता हूं। जिस पार्टी का आदेश मुझे सर्वोच्च पद पर ले आया, वह मेरे लिए सर्वोपरि है।

 

 

इससे पहले भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने गुरुवार को कहा कि देवेंद्र फडणवीस महाराष्ट्र सरकार में शामिल हों। भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने तय किया है और निर्देश दिया है कि देवेंद्र फडणवीस उपमुख्यमंत्री बनें। मैं व्यक्तिगत रूप से भी इसके लिए निवेदन कर रहा हूं। 

जेपी नड्डा ने कहा कि महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे को सीएम बनाने के फैसले से एक बार फिर साफ हुआ है कि भाजपा पद नहीं विचार के लिए काम करती है। हम विचार को आगे रखते हैं। हमारी कोशिश है कि महाराष्ट्र की जनता की भलाई हो। राज्य का विकास हो और लोगों की आकांक्षाएं पूरी हो। भाजपा की केंद्रीय टीम ने तय किया है कि देवेंद्र फडणवीस को सरकार में आना चाहिए। उन्हें सरकार में पदभार संभालना चाहिए। भाजपा की केंद्रीय टीम ने निर्देश दिया है कि देवेंद्र फडणवीस उपमुख्यमंत्री बनें और पूरी ताकत से महाराष्ट्र की जनता की भलाई के लिए काम करें।

इसके साथ ही जेपी नड्डा ने ट्वीट कर एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस को बधाई दी। उन्होंने ट्वीट किया, 'आज ये सिद्ध हो गया कि BJP के मन में कभी मुख्यमंत्री पद की लालसा नहीं थी। 2019 के चुनाव में स्पष्ट जनादेश नरेंद्र मोदी एवं देवेंद्र फडणवीस को मिला था। उद्धव ठाकरे ने CM पद के लालच में हमारा साथ छोड़कर विपक्ष के साथ सरकार बनाई थी।'

 

 

मंत्रिमंडल में शामिल होंगे फडणवीस
जेपी नड्डा ने ट्वीट किया, 'भाजपा ने महाराष्ट्र की जनता की भलाई के लिए बड़े मन का परिचय देते हुए एकनाथ शिंदे का समर्थन करने का निर्णय किया। देवेंद्र फडणवीस ने भी बड़े मन दिखाते हुए मंत्रिमंडल में शामिल होने का निर्णय किया है। यह महाराष्ट्र की जनता के प्रति उनके लगाव को दर्शाता है। भाजपा ने ये निर्णय लेकर एक बार फिर साबित कर दिया है कि कोई पद पाना हमारा उद्देश्य नहीं है। नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश और महाराष्ट्र की जनता की सेवा करना हमारा परम लक्ष्य है।

 

 

 

 

बता दें कि थोड़ी देर पहले शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान देवेंद्र फडणवीस ने कहा था कि वह सरकार में शामिल नहीं होंगे। वह पूरी तरह से सरकार का समर्थन करेंगे। देवेंद्र फडणवीस दो बार महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री रह चुके हैं।  

यह भी पढ़ें- BJP ने क्यों दिया शिंदे को मौका, जिस CM की कुर्सी के लिए फडणवीस 2.5 साल से लगे रहे उसे क्यों छोड़ना पड़ा

शिवसेना 39 विधायकों ने किया था बगावत
बता दें कि शिवसेना के 55 में से 39 विधायकों ने एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में बगावत कर दिया था। बागी विधायक पहले सूरत फिर गुवाहाटी चले गए थे। एकनाथ शिंदे ने अपने साथ 50 विधायकों के समर्थन का दावा किया था। राज्यपाल ने उद्धव ठाकरे को 30 जुलाई शाम 5 बजे तक फ्लोर टेस्ट कराने का आदेश दिया था। शिवसेना इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट गई थी, लेकिन कोर्ट ने फ्लोर टेस्ट रोकने से इनकार कर दिया था। इसके बाद बुधवार रात को उद्धव ठाकरे ने इस्तीफा दे दिया था।

यह भी पढ़ें-  Eknath Shinde: कभी आटो दौड़ाने वाले एकनाथ शिंदे अब चलाएंगे महाराष्ट्र की सरकार

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios