Asianet News HindiAsianet News Hindi

पश्चिम बंगाल के नए राज्यपाल बनाए गए डॉ.सीवी आनंद बोस

एनडीए द्वारा उप राष्ट्रपति का उम्मीदवार बनाए जाने के बाद जगदीप धनखड़ ने पश्चिम बंगाल के राज्यपाल पद से इस्तीफा दे दिया था। धनखड़ के बाद से राज्य में पूर्णकालिक राज्यपाल की नियुक्ति नहीं हो सकी थी। 

Dr CV Anand Bose appointed West Bengal Governor, kow who is Dr.CV Anand Bose, DVG
Author
First Published Nov 17, 2022, 9:30 PM IST

WB new Governor: पश्चिम बंगाल को अपना पूर्णकालिक राज्यपाल मिल गया है। डॉ. सीवी आनंद बोस को पश्चिम बंगाल का राज्यपाल बनाया गया है। जगदीप धनखड़ के उप राष्ट्रपति बनने के बाद राज्य में पूर्णकालिक राज्यपाल कोई नहीं था। मणिपुर के राज्यपाल एलए गणेशन को अतिरिक्त प्रभार दिया गया था। गुरुवार को राष्ट्रपति के प्रेस सेक्रेटरी अजय कुमार सिंह ने नए राज्यपाल की नियुक्ति से संबंधित अधिसूचना जारी किया।  

कौन हैं सीवी आनंद बोस जिनको बनाया गया राज्यपाल?

पश्चिम बंगाल के नवनियुक्त राज्यपाल सीवी आनंद बोस, पूर्व नौकरशाह हैं। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु (President Draupadi Murmu) के कार्यालय ने गुरुवार को आदेश जारी किया। राष्ट्रपति के प्रेस सचिव अजय कुमार सिंह ने एक बयान में कहा कि भारत के राष्ट्रपति डॉ. सी.वी. आनंद बोस को पश्चिम बंगाल के नियमित राज्यपाल के रूप में नियुक्त किया गया है। नियुक्ति उनके पदभार ग्रहण करने की तिथि से प्रभावी होगी। पूर्व राज्यपाल जगदीप धनखड़ के भारत के उपराष्ट्रपति बनने के बाद जुलाई से मणिपुर के राज्यपाल एलए गणेशन पश्चिम बंगाल का अतिरिक्त प्रभार संभाल रहे थे।

जवाहर लाल नेहरू फेलोशिप पा चुके हैं डॉ.बोस

डॉ. सीवी आनंद बोस, जवाहरलाल नेहरू फेलोशिप के फेलो रह चुके हैं। वह मसूरी में लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी के पहले फेलो भी हैं। लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी, सिविल सेवा ऑफिसर्स को प्रशिक्षित करता है। वह एक बेहतरीन लेखक व स्तंभकार भी हैं। श्री बोस ने अंग्रेजी, हिंदी और मलयालम में उपन्यास, शार्ट स्टोरीज, कविताएं और निबंध सहित विभिन्न विधाओं में 40 से अधिक किताबें लिखी हैं। पीएम मोदी के कार्यकारी समूह के वह सदस्य भी हैं। यह ग्रुप देश के विभिन्न सरकारी विकास योजनाओं की रूपरेखा व एजेंडा को तैयार करता है। डॉ.सीवी आनंद बोस ने ही सभी के लिए किफायती आवास की रूपरेखा तैयार की थी, जिसे देशभर में लागू किया गया है।

यह भी पढ़ें:

भारत जोड़ो यात्रा 19 नवम्बर को बनाने जा रहा इतिहास, इंडिया की आयरन लेडी इंदिरा गांधी की जयंती पर होगा यह काम

राहुल गांधी के सावरकर को अंग्रेजों का आज्ञाकारी बताने पर भड़की बीजेपी ने साधा ठाकरे परिवार पर निशाना...

संसदीय स्थायी कमेटियों की मीटिंग से 'गायब' रहते सांसद जी...लापरवाह सांसदों में सबसे अधिक इस पार्टी के MPs

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios