Asianet News Hindi

मानसून सत्र में किसानों की लेटर पॉलिटिक्सः किसानों के रोज एक लेटर से होगा विपक्ष का वार्मअप

संयुक्त किसान मोर्चा ने विपक्ष से अपील की है कि वो सदन से वॉकआउट कर केंद्र सरकार को लाभ ना पहुंचाएं बल्कि संसद के अंदर बैठ कर किसानों के मुद्दे पर सरकार को घेरें। 

Farmers new strategy for quashing three farm bills, will give warning letter to opposition during Monsoon session DHA
Author
New delhi, First Published Jul 12, 2021, 9:28 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। संसद के मानसून सत्र में देश का सियासी पारा चढ़ने वाला है। एक तरफ जहां विपक्ष सदन में सरकार को विभिन्न मुद्दों पर घेरेगा वहीं संसद के बाहर किसान भी तीन कृषि कानूनों को रद्द करने के लिए नई रणनीति का ऐलान किया है। संयुक्त किसान मोर्चा ने ऐलान किया है कि वह विपक्षी दलों को रोज एक वार्निंग लेटर भेजेगा।  

विपक्ष को किसान रोज भेजेंगे एक वार्निंग लेटर

संसद का मॉनसून सत्र 19 जुलाई से शुरू हो रहा है। किसान अपनी मांगों को लेकर विपक्षी दलों को एक वार्निंग लेटर भेजेंगे। रोज ब रोज किसानों का लेटर विपक्षी दलों को भेजा जाएगा। लेटर के जरिए संसद के अंदर बैठे विपक्षी पार्टियों के सदस्यों से कहा जाएगा कि वो संसद में किसानों की आवाज को उठाएं। 

संसद के बाहर भी किसान करेंगे प्रदर्शन

किसान संयुक्त मोर्चा सरकार के खिलाफ संसद के बाहर भी मोर्चा संभालेगा। अलग-अलग किसान संगठनों के 5 सदस्य संसद के बाहर प्रदर्शन करेंगे। संयुक्त किसान मोर्चा के मुताबिक किसानों के मांग के समर्थन में संसद के बाहर करीब 200 किसान प्रदर्शन करेंगे। 

40 से अधिक किसान संगठन नवम्बर 2020 से हैं धरनारत

केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के विरोध में पिछले साल नवम्बर से किसान विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। 40 से ज्यादा किसान संगठन, संयुक्त किसान मोर्चा के बैनर तले दिल्ली की सीमाओं डटे हैं। 

किसानों की अपील विपक्ष वॉकआउट न करे, आवाज उठाए

संयुक्त किसान मोर्चा ने विपक्ष से अपील की है कि वो सदन से वॉकआउट कर केंद्र सरकार को लाभ ना पहुंचाएं बल्कि संसद के अंदर बैठ कर किसानों के मुद्दे पर सरकार को घेरें। 

यह भी पढ़े: 

महामारी से बेहाल किसान-मजदूर, भूखमरी से बचने को किडनी बेचने को हुए मजबूर, मोरीगांव में 30 ने बेची किडनी

'ग्रेवयार्ड ऑफ एम्पायर' बन चुके अफगानिस्तान में सबकुछ ठीक न करना 'महाशक्ति' की विफलता

लोकसभा मानसून सत्रः 19 दिनों तक चलेगा सदन, 18 जुलाई को आल पार्टी मीटिंग

नेपाल में केपी शर्मा ओली को सुप्रीम झटका, दो दिनों में शेर बहादुर देउबा को पीएम नियुक्त करने का आदेश

पूर्वाेत्तर में बढ़ रहा कोविड-19 कर रहा चिंतित, पीएम मोदी कल करेंगे मुख्यमंत्रियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios