नई दिल्ली. केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के विरोध में पंजाब और हरियाणा के किसानों ने दिल्ली कूज किया है। बड़ी संख्या में किसान दिल्ली बॉर्डर पर हैं। बताया जा रहा है कि वे राजधानी में प्रवेश कर सकते हैं। ऐसे में दिल्ली पुलिस ने केजरीवाल सरकार से किसानों के लिए स्टेडियम में स्थाई जेल बनाने की मांग की थी। इसे राज्य सरकार ने नकार दिया है। 

दिल्ली पुलिस ने 9 स्टेडियम को अस्थाई जेल बनाने की मांग की थी। इसे नकारते हुए दिल्ली सरकार ने कहा, किसानों की मांग जायज है, ऐसे में उन्हें जेल में डालना ठीक नहीं है।



'अहिंसक तरीके से कर रहे प्रदर्शन'
दिल्ली सरकार में मंत्री सत्येंद्र जैन ने बयान जारी कर कहा, किसानों की मांग जायज है। उनका प्रदर्शन अहिंसक तरीके से चल रहा है। ऐसे में उन्हें जेल में डालना ठीक नहीं है। 
 
केजरीवाल सरकार ने किया किसानों का समर्थन
अरविंद केजरीवाल और उनकी पार्टी कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों के समर्थन में हैं। आप पार्टी ने सोशल मीडिया पर किसानों के मुद्दे पर मोदी सरकार को घेरा। केजरीवाल ने कहा, हमारे किसानों को Y+ सिक्योरिटी तो दूर मोदी सरकार ने उनपर आंसू गैस और वॉटर कैनन चलवाई।

इससे पहले अरविंद केजरीवाल ने मांग को जायज ठहराया था। उन्होंने पुलिस की ऐक्शन को भी गलत बताया था। वहीं, पुलिस ने कोरोना संकट का हवाला देते हुए किसानों के लिए जेल बनाने की मांग की थी।