मुंबई. यौन शोषण के मामले में फिल्म डायरेक्टर अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) की परेशानियां बढ़ती जा रही हैं। हाल ही में एक्ट्रेस पायल घोष ने उन पर यौन शोषण (Sexual Exploitation) का आरोप लगाया था। अब पायल घोष उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराने के लिए सोमवार देर रात मुंबई के ओशिवारा थाने पहुंचीं,पायल के साथ उनके वकील नितिन सतपूते भी गए थे। हालांकि, अनुराग कश्यप के खिलाफ उनकी शिकायत दर्ज नहीं की गई है। अब मंगलवार को इस मामले में पायल के वकील नया कदम उठाएंगे. 

पायल के साथ पुलिस स्टेशन गए उनके वकील नितिन सतपूते ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, 'वहां बयान दर्ज करने के लिए कोई महिला अधिकारी नहीं थी। पुलिस स्टेशन का क्षेत्राधिकार भी तय नहीं हो पा रहा था,क्योंकि घटना वर्सोवा पुलिस स्टेशन के अधिकार क्षेत्र में हुई थी। उन्होंने चैनल से अपनी आगे की प्लानिंग बताते हुए कहा, 'हम मंगलवार दोपहर को शिकायत दर्ज करेंगे। इसके अलावा हम एनसीडब्ल्यू के समक्ष भी शिकायत दर्ज करेंगे।

अनुराग ने सिरे से खारिज किए हैं आरोप 
वहीं एक्ट्रेस पायल घोष के आरोपों के एक दिन बाद 20 सितंबर को एक के बाद एक अनुराग कश्यप ने कई ट्वीट किए और खुद पर लगे इन गंभीर आरोपों पर प्रतिक्रिया दी थी। उन्होंने एक ट्वीट में लिखा, 'क्या बात है, इतना समय ले लिया मुझे चुप करवाने की कोशिश में,चलो कोई नहीं। मुझे चुप कराते कराते इतना झूठ बोल गए कि औरत होते हुए दूसरी औरतों को भी संग घसीट लिया। थोड़ी तो मर्यादा रखिए मैडम। बस यही कहूंगा कि जो भी आरोप हैं आपके सब बेबुनियाद हैं।'

2014 में छेड़छाड़ का आरोप 
एक्ट्रेस पायल के वकील नितिन सतपुते ने कहा कि पायल घोष के साथ साल 2014 में छेड़छाड़ की गई और अनुराग कश्यप ने घर पर बुरा व्यवहार किया। एक्ट्रेस ने पहले शिकायत दर्ज कराने की कोशिश की, लेकिन उन्हें धमकी दी गई थी। उन पर दबाव डाला गया था कि अगर शिकायत दर्ज करोगी तो बहिष्कार कर दिया जाएगा।