Asianet News HindiAsianet News Hindi

Independence day: पहली बार भारतीय वायु सेना के दो एमआई 17 1V हेलीकॉप्टरों की होगी तैनाती, जानें क्या करेंगे

इस वर्ष पहली बार ऐसा होगा कि जैसे ही प्रधानमंत्री द्वारा राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा, अमृत फॉर्मेशन में भारतीय वायु सेना के दो एमआई 17 1V हेलीकॉप्टरों द्वारा कार्यक्रम स्थल पर फूलों की पंखुड़ियों की वर्षा की जाएगी।

first time in Independence day two Mi 17 1V helicopters of the Indian Air Force will perform flower petals rain
Author
New Delhi, First Published Aug 14, 2021, 8:12 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 15 अगस्त को नई दिल्ली में लाल किले की प्राचीर से ऐतिहासिक 75वें स्वतंत्रता दिवस को मनाने में राष्ट्र की अगुवाई करेंगे। वह राष्ट्रीय ध्वज फहराएंगे और पारंपरिक रूप से राष्ट्र को संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री ने भारत की स्वतंत्रता का 75वां वर्ष मनाने के लिए मार्च 2021 में गुजरात के अहमदाबाद के साबरमती आश्रम से 'आजादी का अमृत महोत्सव' शुरू किया था। यह समारोह 15 अगस्त, 2023 तक जारी रहेगा।

इसे भी पढ़ें- आजादी का अमृत महोत्सव: राष्ट्र को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति ने कहा- जम्मू-कश्मीर में दिख रहा है नव-जागरण

इस वर्ष पहली बार ऐसा होगा कि जैसे ही प्रधानमंत्री द्वारा राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा, अमृत फॉर्मेशन में भारतीय वायु सेना के दो एमआई 17 1V हेलीकॉप्टरों द्वारा कार्यक्रम स्थल पर फूलों की पंखुड़ियों की वर्षा की जाएगी। पहले हेलीकॉप्टर के कप्तान विंग कमांडर बलदेव सिंह बिष्ट होंगे, जबकि दूसरे हेलिकॉप्टर की कमान विंग कमांडर निखिल मेहरोत्रा ​​संभालेंगे। फूलों की पंखुड़ियों की वर्षा के बाद प्रधानमंत्री राष्ट्र को संबोधित करेंगे।

प्रधानमंत्री के भाषण के समापन पर राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) के कैडेट राष्ट्रगान गाएंगे। राष्ट्रीय उल्लास के इस पर्व में विभिन्न स्कूलों के पांच सौ (500) एनसीसी कैडेट (सेना, नौसेना और वायु सेना) हिस्सा लेंगे। 

इसे भी पढे़ं- साहस और बहादुरी के लिए इन 6 जवानों को मिला शौर्य चक्र, जानें किस ऑपरेशन को इन्होंने दिया था अंजाम

टोक्यो ओलंपिक में भाला फेंकने वाले सूबेदार, ट्रैक और फील्ड में भारत के पहले स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा सहित ओलंपिक के बत्तीस विजेताओं के साथ-साथ भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) के दो अधिकारियों को लाल किले में समारोह में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया गया है। लगभग 240 ओलंपियन, सहयोगी स्टाफ और साई तथा खेल महासंघ के अधिकारियों को भी प्राचीर के सामने  बैठेंगे। टोक्यो में, भारत ने एक स्वर्ण, दो रजत और चार कांस्य पदक सहित कुल सात पदक जीतकर ओलंपिक में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। वहीं, अदृश्य शत्रु, कोविड-19 से लड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले कोरोना योद्धाओं के सम्मान में प्राचीर के दक्षिण की ओर एक अलग ब्लॉक का निर्माण किया गया है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios