Asianet News Hindi

सावधान : Cowin ऐप के जरिए कोई आपके आधार से ना करा ले वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन

कोरोना वायरस की वैक्सीन के लिए Cowin app में तकनीकी खामी का फायदा उठाकर रजिस्ट्रेशन का मामला सामने आया है। आधार नंबर समेत डाटा चोरी करके वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन कराने के मामले सामने आए हैं। दरअअल, Cowin app में ऐसा कोई फीचर नहीं है, जिससे यह पता चल सके कि कार्ड की जानकारी देने वाला ही शख्स रजिस्ट्रेशन कर रहा है। 

Fraud using flaws in cowin app and website no option for verification KPP
Author
kerala, First Published Jun 14, 2021, 2:50 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. कोरोना वायरस की वैक्सीन के लिए Cowin app में तकनीकी खामी का फायदा उठाकर रजिस्ट्रेशन का मामला सामने आया है। आधार नंबर समेत डाटा चोरी करके वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन कराने के मामले सामने आए हैं। दरअअल, Cowin app में ऐसा कोई फीचर नहीं है, जिससे यह पता चल सके कि कार्ड की जानकारी देने वाला ही शख्स रजिस्ट्रेशन कर रहा है। 

ऐसा ही मामला केरल के पुनालूर से सामने आया हूं। यहां जब अजीत नाम के शख्स ने अपने माता पिता को वैक्सीन लगवाने के लिए रजिस्ट्रेशन करने की कोशिश की, तो पता चला कि उस आईडी से पहले ही किसी ने रजिस्ट्रेशन कर लिया है। अजीत को बाद में पता चला कि उनके भाई के आधार का भी इस्तेमाल करके रजिस्ट्रेशन कर लिया गया है। 

पहले ही हो चुका रजिस्ट्रेशन
जब Asianet news ने अजीत से बात की तो उन्होंने बताया कि जब वे अपने माता पिता के लिए रजिस्ट्रेशन कर रहे थे तो उन्हें पता चला कि दोनों के आधार से पहले ही रजिस्ट्रेशन हो चुका है। इतना ही नहीं उनके भाई के आधार से भी रजिस्ट्रेशन किया जा चुका था। 

इन 8 दस्तावेजों से कर सकते हैं रजिस्ट्रेशन 
कोविन ऐप में 8 दस्तावेजों से रजिस्ट्रेशन कराया जा सकता है। इन दस्तावेजों में आधार, पेन, वोटर आईडी शामिल हैं। खास बात ये है कि इसमें इन दस्तावेजों से रजिस्टर्ड करने के लिए आपको खुद या दस्तावेज देने वाले व्यक्ति के बीच संबंध की जरूरत नहीं है। 

सेंटर पर देखा जाता है डॉक्यूमेंट
भले ही आप किसी भी दस्तावेज से रजिस्ट्रेशन करा लें, लेकिन वैक्सीन सेंटर पर जो व्यक्ति वैक्सीन के लिए जाता है, उसे अपने साथ आधार कार्ड या अन्य दस्तावेज ले जाने होते हैं। यहां आधार या दस्तावेज को वैरिफाई भी किया जाता है। 
 
लेकिन पंजीकृत होने वाले पहचान दस्तावेज की संख्या और पंजीकरण करने वाले व्यक्ति के बीच कोई संबंध नहीं हो सकता है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios