Asianet News HindiAsianet News Hindi

अब 21 दिन नहीं माने तो 21 साल पीछे जाएंगे: प्रधानमंत्री की 10 बड़ी बातें जो हर किसी के लिए हैं जरूरी

देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 5 दिन में दूसरी बार राष्ट के नाम अपना संबोधन किया। इस संबोधन में उन्होंने बताया कि कोरोना की रोकथाम के लिए आज रात 12 बजे से अगले 21 दिनों तक पूरा देश लॉकडाउन रहेगा। 

From 21 days of lockdown to Corona to rescue methods: 10 big things about PM's address KPB
Author
New Delhi, First Published Mar 24, 2020, 9:06 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 5 दिन में दूसरी बार राष्ट के नाम अपना संबोधन किया। इस संबोधन में उन्होंने बताया कि कोरोना की रोकथाम के लिए आज रात 12 बजे से अगले 21 दिनों तक पूरा देश लॉकडाउन रहेगा। यह जनता कर्फ्यू से भी सख्त होगा और सभी लोग अगले 21 दिनों तक यह भूल जाए कि घर से बाहर निकलना क्या होता है। उन्होंने कोरोना के खतरे से सभी लोगों को आगाह किया और सतर्कता बरतने की अपील की। अपने संबोधन में उन्होंने देशवासियों से जो बात की उसके 10 अहम पहलू- 

1 अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सबसे पहले अगले 21 दिनों तक देशव्यापी लॉकडाउन का ऐलान किया। यह लॉकडाउन आज रात 12 बजे से शुरू होगा। प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में बताया कि यह जनता कर्फ्यू से भी सख्त होगा और सभी जगह इसका सख्ती से पालन किया जाएगा। देश के सभी नागरिकों को प्रधानमंत्री ने घर अंदर रहने के लिए चेताया है। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि यह लॉकडाउन कर्फ्यू की ही तरह है। किसी भी हालत में अगले दिनों तक किसी को भी घर से बाहर निकलने की जरूरत नहीं है। देश की हर गली हर मोहल्ले को लॉकडाउन किया गया है। उन्होंने आगे चेतावनी देते हुए कहा कि अगर ये 21 दिन हमसे नहीं सभले तो सभी देशवासियों को इसकी बहुत मंहगी कीमत चुकानी पड़ेगी। 

उन्होंने अपने संबोधन में आगे बोलेते हुए कहा कि अगले 21 दिनों तक देश नहीं कोरोना लॉकडाउन होगा। हम सभ भारतीय मिलकर इस महामारी से फैलने से रोक सकते हैं। दुनिया के बड़े देशों में इस महामारी ने अपना आतंक दिखाया है और इससे बचने का एक ही तरीका है। इसे फैलने से रोकना। 

प्रधानमंत्री देश के लोगों से कहा कि बाहर निकलना क्या होता है ये भूल जाएं। अगले 10 दिनों तक देश में लॉकडाउन रहेगा। किसी को बाहर निकलने की जरूरत नहीं है। उन्होंने सभी देशवासियों से कहा कि अगले 21 दिनों के लिए अपने घर में लक्ष्मण रेखा खींच लें। 

देश के प्रधानमंत्री के रूप में अपनी जिम्मेदारी बताते हुए उन्होंने कहा कि आपका जीवन बचाना भारत सरकार की जिम्मेदारी है। आप सिर्फ औऱ सिर्फ अपने घर के अंदर रहें। 

From 21 days of lockdown to Corona to rescue methods: 10 big things about PM's address KPB

कोरोना वायरस से बचाव पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि लोगों से मिलने से बचना ही कोरोना से बचने का एकमात्र उपाय है। इस पर हर हाल में अमल करें और किसी भी सूरत में घर से बाहर कदम ना रखें।

कोरोना का मतलब बताते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि कोई सड़क पर ना निकले। यहीं कोरोना का मतलब है। 

देशवासियों को चेतावनी देते हुए उन्होंने कहा कि अगर अगले 21 दिनों तक हम घर में नहीं बैठे और लॉकडाउन सफल नहीं हुआ तो हमारा देश 21 साल पीछे तक जा सकता है। 

कोरोना के भयंकर परिणामों को समझाते हुए प्रधानमंत्री ने बताया कि कोरोना जैसी महामारी से करोड़ों परिवार अपना सबकुछ गंवा सकते हैं। इस महामारी का कोई इलाज नहीं है। सिर्फ संक्रमण को फैलने से रोकना ही बचाव का एकमात्र तरीका है। 

10 उन्होंने देश की सभी सरकारों से और अफसरों से कोरोना के बचाव के लिए आर्थिक मदद की अपील भी की। सभी राज्य सरकारों को उन्होंने आदेश दिया कि हर सरकार की पहली प्राथमिकता स्वास्थ्य व्यवस्था होनी चाहिए। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios