Asianet News HindiAsianet News Hindi

Gautam Gambhir को धमकी भरा ईमेल Pakistan से भेजा गया था, Google ने किया खुलासा, जानिए इसका इंडिया कनेक्शन

 गंभीर को email से आईएसआईएस कश्मीर (ISIS Kashmir) की ओर से धमकी भरा पत्र भेजा गया। गौतम गंभीर ने लोकसभा चुनाव-2019 में भाजपा ज्वाइन की थी। 

Gautam Gambhir email threat IP address revealed, Pakistan connection, Google helped in Delhi Police investigation DVG
Author
New Delhi, First Published Nov 25, 2021, 1:44 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। बीजेपी (BJP) के सांसद व पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) को धमकी भरा ई-मेल पाकिस्तान (Pakistan) से आया था। पाकिस्तान के किसी जगह से उनको जान से मारने की धमकी मिली थी। गूगल (Google) ने यह जानकारी सरकार से शेयर की है। गूगल ने बताया कि जिस ई-मेल से धमकी दी गई है कि उस कंप्यूटर का आईपी एड्रेस (IP Address) पाकिस्तान का है। हालांकि, पाकिस्तान से ईमेल करने वाले का इंडिया कनेक्शन खोजा जा रहा है। गूगल को कुछ ऑपशल मेल और लोकल आईपी एड्रेस की भी जानकारी मिली है जिसके बारे में जांच की जा रही है।

दरअसल, बीजेपी सांसद गौतम गंभीर को मिले ईमेल के बाद यह कयास लगाए जा रहे थे कि जम्मू-कश्मीर(Jammu and Kashmir) में आतंकवाद के खिलाफ सुरक्षाबलों के कड़े एक्शन से आतंकवादी बौखलाए हुए हैं। दहशत फैलाने के लिए टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर, बीजेपी सांसद गौतम गंभीर को कश्मीरी आतंकवादियों ने जान से मारने की धमकी दी होगी। 

शिकायत के बाद कश्मीर कनेक्शन पर शुरू हुई पड़ताल

चूंकि, गंभीर को email से आईएसआईएस कश्मीर (ISIS Kashmir) की ओर से धमकी भरा पत्र भेजा गया। इसलिए पुलिस ने लेटर के कश्मीर कनेक्शन की जांच शुरू कर दी साथ ही उनकी सुरक्षा भी बढ़ा दी। 

2019 में भाजपा ज्वाइन की थी

गौतम गंभीर ने लोकसभा चुनाव-2019 में भाजपा ज्वाइन की थी। उन्होंने अरुण जेटली (दिवंगत) और रविशंकर प्रसाद की मौजूदगी में भाजपा ज्वाइन की थी। इसके बाद उन्हें चुनाव लड़ाया गया और वे जीते। गौतम गंभीर 2 वर्ल्डकप जीतने वाली टीम का हिस्सा रहे हैं। वे 2007 टी-20 वर्ल्डकप और 2011 वर्ल्डकप में भी बड़े स्टार बनकर सामने आए थे।

22 नवंबर को NIA ने कई जगहों पर छापे मारे थे

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने सोमवार को जम्मू कश्मीर कोलिशन ऑफ सिविल सोसाइटीज (JKCCS) के दफ्तर में छापे मारे थे। NIA के सूत्रों के मुताबिक श्रीनगर में अमीरा कदल पुल के पास बूंड कार्यालय में छापेमारी की गई थी। पिछले दिनों एनआईए ने समूह के कार्यक्रम समन्वयक के आवास की तलाशी ली थी। जेकेसीसीस कश्मीर में मानवाधिकारों के उल्लंघन का दस्तावेजीकरण करता रहा है।

लगातार एनकाउंटर से बौखलाए हुए हैं आतंकवादी संगठन

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबल लगातार आतंकवादियों के एनकाउंटर कर रहे हैं। इससे वे बौखलाए हुए हैं। 21 नवंबर की रात आतंकवादियों ने पठानकोट में आर्मी कैम्प के बाहर ग्रेनेड फेंका था। पठानकोर्ट के SSP सुरेंद्र लांबा के मुताबिक, रविवार रात करीब 1 बजे पठानकोट के काठवाला पुल से धीरा जाने वाले रास्ते में सेना के कैम्प के त्रिवेणी द्वार पर वहां से गुजरे अज्ञात बाइक सवारों ने यह ग्रेनेड फेंका था । उस वक्त ड्यूटी पर तैनात जवान कुछ दूरी पर थे, इसलिए किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचा। 

यह भी पढ़ें:

Manish Tewari की किताब से असहज हुई Congress: अधीर रंजन चौधरी ने दी नसीहत, पूछा-अब होश में आए हैं, उस समय क्यों नहीं बोला

महाराष्ट्र कोआपरेटिव चुनाव में महाअघाड़ी को झटका, एनसीपी विधायक को बागी ने एक वोट से हराया, गृहराज्यमंत्री भी हारे

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios