Asianet News Hindi

बेतहाशा बढ़ती मुस्लिम आबादी को रोकने एक्शन में आई असम सरकार, CM हिमंत ने दिए संकेत

अपने आक्रामक तेवर के लिए पहचाने जाने वाले असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व शर्मा ने राज्य में बेतहाशा बढ़ती मुस्लिम आबादी पर अंकुश लगाने नीतिगत उपाय लागू करने के संकेत दिए हैं।

Government will take policy decisions to stop the speed of Muslim population in Assam  kpa
Author
Guwahati, First Published Jun 29, 2021, 11:44 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

गुवाहाटी. असम में बेतहाशा बढ़ती मुस्लिम आबादी को नियंत्रित करने हिमंत सरकार एक्शन में आई है। यहां दो बच्चों के नियम के साथ जनसंख्या नीति लाने की तैयारी की जा रही है। मुख्यमंत्री हिमंत बिश्व शर्मा ने इसके संकेत दिए हैं। कहा जा रहा है कि जो इस नीति का पालन करेगा, उसे सरकारी की ओर से विशेष लाभ मिलेगा।

भाषा एजेंसी को दिए साक्षात्कार में दिए संकेत
असम के मुख्यमंत्री ने भाषा न्यूज एजेंसी को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि राज्य सरकार अल्पसंख्यकों की आबादी को नियंत्रित करने के लिए एक विशेष नीतिगत कदम उठाने जा रही है। इसका लक्ष्य गरीबी ओर निरक्षरता मिटाना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार का प्राथमिक लक्ष्य स्वास्थ्य और शिक्षा में सुधार लाना है। इन कदमों के जरिये मुस्लिम आबादी की बेतहाशा वृद्धि पर अंकुश लगाना है।

29 प्रतिशत की रफ्तार से बढ़ रही आबादी
मुख्यमंत्री ने साफ कहा कि यह कोई राजनीति मुद्दा नहीं है, लेकिन इसका असर समुदाय में देखा जाएगा। हिमंत शर्मा ने कहा कि उनका मकसद समुदाय की मात-बहनों की भलाई है। इससे पहले समुदाय के कल्याण पर है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार जनसंख्या वृदि्ध 1.6 रखने में कामयाब रही है। लेकिन जब बात मुस्लिम आबादी की आती है, तो यह 29 प्रतिशत की दर से बढ़ रही है, जबकि हिंदू आबादी सिर्फ 10 प्रतिशत की दर से।

दो बच्चों की नीति पर जोर
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार मुस्लिम समुदाय के संपर्क में है। अगले महीने से सरकार कई संगठनों के साथ इस संबंध में चर्चा करेगी। सरकार का लक्ष्य कॉलेज लेवल तक लड़कियों को मुफ्त शिक्षा देना, अल्पसंख्यकों इलाकों में कॉलेज-स्कूल खोलना, अल्पसंख्यक महिलाओं को आर्थिक मदद देना, पंचायतों और सरकारी नौकरियों में आरक्षण देना आदि है। हिमंत शर्मा ने कहा कि उनकी सरकार राष्ट्रीय नीति के अनुसार काम कर रही है। वे दो बच्चों की नीति योजना लाने पर काम कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें
GOOD NEWS:अब गर्भवती भी लगवा सकेंगी कोरोना वैक्सीन, ICMR ने अपनी स्टडी में बताया था इसे जरूरी


 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios