Asianet News HindiAsianet News Hindi

Gujarat के गुटका डिस्ट्रीब्यूटर ग्रुप पर Income tax का शिकंजा, 100 करोड़ से अधिक की अघोषित संपत्ति सीज

रेड में अब तक 100 करोड़ से अधिक की बेहिसाब आय का पता चला है। हालांकि, समूह ने 30 करोड़ रुपये से अधिक की अघोषित आय ही स्वीकार की है। 

Gujarat gutkha distributor 100 crores hidden income found in Income tax raid, accounts and lockers seize, DVG
Author
Ahmedabad, First Published Nov 24, 2021, 12:32 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अहमदाबाद। गुजरात (Gujarat) के एक गुटखा वितरक (Gutkha distributor) के परिसरों में आयकर विभाग (Income tax department) ने सर्च ऑपरेशन कर सौ करोड़ (100 crores rupees) से अधिक की अघोषित आय का पता लगाया है। सरकार की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक, आयकर अधिकारियों ने 16 नवंबर को अहमदाबाद में गुटखा वितरक के कम से कम 15 परिसरों की तलाशी ली थी। अधिकारिक बयान में समूह के नाम का खुलासा नहीं किया गया है। हालांकि, इनके सभी बैंक लॉकर्स और अकाउंट को सीज कर दिया गया है।

रेड में चार करोड़ के जेवरात मिले

छापेमारी के दौरान करीब साढ़े सात करोड़ की अनाकाउंटेड नकदी और करीब चार करोड़ रुपये के जेवरात बरामद किए गए। सरकार के बयान में कहा गया है कि समूह ने 30 करोड़ रुपये की अघोषित आय होने की बात स्वीकार की है। बयान में कहा गया है कि आयकर अधिकारियों ने 16 नवंबर की तलाशी के दौरान विभिन्न आपत्तिजनक दस्तावेज और डिजिटल साक्ष्य भी जब्त किए।

अधिकारियों ने बताया कि इन सबूतों का विश्लेषण समूह द्वारा कर चोरी की ओर इशारा करता है। सरकार के बयान में कहा गया है कि यह अघोषित आय, सामग्री की बेहिसाब खरीद, बिक्री का कम चालान और बेहिसाब खर्च दिखाकर अर्जित किया गया है। 

100 करोड़ की अघोषित आय का पता लगा 30 करोड़ स्वीकारा

रेड में अब तक 100 करोड़ से अधिक की बेहिसाब आय का पता चला है। हालांकि, समूह ने 30 करोड़ रुपये से अधिक की अघोषित आय ही स्वीकार की है। बयान में कहा गया है कि जब्त की गई सामग्री के विश्लेषण से पता चला है कि नकद बिक्री को लेखा पुस्तकों में दर्ज नहीं किया गया था और सर्च टीम को यह भी सबूत मिले कि समूह ने अचल संपत्तियों में अघोषित निवेश किया था। फिलहाल, आयकर विभाग ने समूह के बैंक लॉकरों को सील कर दिया है और मामले की आगे की जांच कर रहा है।

यह भी पढ़ें:

Manish Tewari की किताब से असहज हुई Congress: अधीर रंजन चौधरी ने दी नसीहत, पूछा-अब होश में आए हैं, उस समय क्यों नहीं बोला

महाराष्ट्र कोआपरेटिव चुनाव में महाअघाड़ी को झटका, एनसीपी विधायक को बागी ने एक वोट से हराया, गृहराज्यमंत्री भी हारे

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios