Asianet News HindiAsianet News Hindi

देश का पहला नाइट स्काई रिजर्व बनेगा लद्दाख में, जानिए इस अनोखे प्रोजेक्ट की खासियत

लद्दाख के हनले क्षेत्र में स्थापित हो रहे प्रोजेक्ट के लिए दुनिया का सबसे ऊंचा लोकेशन चुना गया है। यह सबसे ठंडा रेगिस्तान क्षेत्र होने के साथ साथ मानवीय हलचल व भीड़भाड़ से दूर का क्षेत्र है। यहां पूरे साल साफ आसमान रात में रहता है।
 

India first night sky sanctuary in Ladakh, Know all details, DVG
Author
First Published Sep 4, 2022, 12:46 AM IST

नई दिल्ली। भारत की पहली नाइट स्काई सैंक्चुअरी की स्थापना लद्दाख में की जाएगी। तीन महीने के भीतर पूरा किए जाने वाले इस प्रोजेक्ट को लद्दाख में चांगथांग वन्यजीव अभयारण्य Changthang Wildlife Sanctuary में मूर्तरूप दिया जाएगा। यह प्रोजेक्ट देश में एस्ट्रो-टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए मील का पत्थर साबित होगा। लद्दाख के हनले में पूरा किए जाने वाले इस प्रोजेक्ट की साइट दुनिया की सबसे ऊंचाई वाली जगह है जोकि ऑप्टिकल, इन्फ्रा-रेड व गामा-रे टेलीस्कोप के लिए सबसे उपयुक्त होगी। 

डार्क स्काई रिजर्व के लिए MoU साइन

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि डार्क स्काई रिजर्व का काम पूरा करने के लिए एमओयू भी साइन किया जा चुका है। डार्क स्पेस रिजर्व लॉन्च करने के लिए लद्दाख केंद्र शासित प्रदेश प्रशासन, लद्दाख स्वायत्त पहाड़ी विकास परिषद (LAHDC) लेह और भारतीय खगोल भौतिकी संस्थान (Indian Institute of Astrophysics) के बीच एक त्रिपक्षीय MoU साइन किया गया है। जितेंद्र सिंह ने कहा कि सभी स्टेकहोल्डर्स संयुक्त रूप से अनवान्टेड लाइट पॉल्युशन और इल्युमिनेशन से रात में आकाश के संरक्षण की दिशा में काम करेंगे। क्योंकि ऐसे लाइट्स से आकाश के नेचुरल कंडीशन व वैज्ञानिक ऑब्जर्बेशन के लिए खतरा होता है। केंद्रीय मंत्री ने बताया कि हनले, परियोजना के लिए सबसे उपयुक्त है। इसकी वजह यह है कि यह लद्दाख के ठंडे रेगिस्तानी क्षेत्र में स्थित है। यह किसी प्रकार की मानवीय अशांति से दूर है, साफ आसमान व ड्राइ वेदर कंडीशन पूरे साल रहता है।

DST लगाएगा शिक्षा मेले में कैंप

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह के साथ लद्दाख के उप राज्यपाल आरके माथुर ने लद्दाख चमड़ा केंद्र लेहबेरी के अलावा सीएसआईआर के सहयोग से चलने वाली परियोजनाओं व शिक्षा मेला पर चर्चा भी की है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अगले साल विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) लद्दाख शिक्षा मेले के लिए एक स्पेशल कैंप लगाएगा। उन्होंने बताया कि डीएसटी, युवाओं को रोजगार के लिए काम करेगा। युवाओं-छात्रों को रोजगार चयन, स्कॉलरशिप, करियर काउंसलिंग, स्किल डेवलपमेंट आदि में भी सहयोग करेगा।

यह भी पढ़ें:

अगर विपक्षी दल एक साथ आ गए तो बीजेपी 2024 में 50 से कम सीटों पर सिमट जाएगी: नीतीश कुमार

T20 World Cup में रविंद्र जडेजा नहीं होंगे भारतीय टीम का हिस्सा, BCCI ने इस वजह से किया अनश्चितकाल के लिए बाहर

गुजरात आम आदमी पार्टी के अध्यक्ष गोपाल इटालिया की बढ़ी मुश्किलें, बीजेपी ने दर्ज कराया डिफेमेशन केस

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios