नई दिल्ली. भारत - चीन सीमा तनाव के बीच भारतीय सेना (Indian Army) ने लद्दाख के पूर्वी क्षेत्र की 6 चोटियों पर बीते 3 हफ्तों में कब्जा कर लिया है। ये चोटियां वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएएसी) वाले क्षेत्र में आती हैं। समाचार एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से बताया, इन चोटियों पर चीन की सेना की नजर थी, लेकिन उससे पहले ही भारतीय सेना ने इनपर कब्जा कर लिया है। ये सभी चोटियां भारतीय सीमा के अंदर हैं।

भारत और चीन के बीच मई से शुरू हुए सीमा गतिरोध के बाद भारतीय सैनिकों को चीन की सेना (पीएलए) ने फिंगर 4 से फिंगर 8 तक जाने से रोक रखा था लेकिन अब भारत ने फिंगर 4 के नजदीकी इलाक़ों में कब्जा जमा लिया है। सरकारी सूत्रों के मुताबिक, जिन 6 चोटियों पर भारतीय सेना ने कब्जा किया है वे फिंगर 4 से काफी नजदीक बताई जा रही हैं। इन 6 चोटियों में से भारतीय सेना की रणनीति के लिए प्रमुख चोटियां मगर हिल, गुरुंग हिल, रिचेन ला, रेजांग ला, और मोखपरी हैं जिनपर भारतीय सेना ने कब्जा किया है।

कब्जे के बाद चीन हुआ आक्रामक

भारतीय सेना के 6 चोटियों पर कब्जे से बौखलाए चीन ने रेजांग ला और रिचेन ला के नजदीकी इलाक़ों में पीएलए के 3000 अतिरिक्त सैनिकों को हथियारों के साथ तैनात कर दिया है। चीन की इन सभी हरकतों पर भारतीय राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल, चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ (सीडीएस) बीपिन रावत और सेना अध्यक्ष एम. एम. नरवणे की नजर बनी हुई है।