इंडियन कोस्टल गार्ड को मिला एडवांस्ड लाइट हेलीकॉप्टर Mk-III, समुद्री सीमा की निगरानी में आएगा काम

| Dec 01 2022, 05:25 PM IST

इंडियन कोस्टल गार्ड को मिला एडवांस्ड लाइट हेलीकॉप्टर Mk-III, समुद्री सीमा की निगरानी में आएगा काम

सार

इंडियन कोस्टल गार्ड में एडवांस्ड लाइट हेलीकॉप्टर Mk-III को कमिशन किया गया है। यह ध्रुव हेलिकॉप्टर का नेवल वर्जन है।  दिन हो या रात यह हेलिकॉप्टर हर वक्त काम कर सकता है। 

नई दिल्ली। भारत की समुद्री सीमा की निगरानी को मजबूत करने के लिए इंडियन कोस्टल गार्ड को नया हथियार मिला है। गुरुवार को एडवांस्ड लाइट हेलीकॉप्टर Mk-III कोस्टल गार्ड में शामिल हुआ। हेलीकॉप्टर के एक स्क्वाड्रन को चेन्नई में समारोह के दौरान कोस्टल गार्ड में कमिशन किया गया। इस हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल समुद्री सीमा की निगरानी के लिए होगा।

Mk-III हेलीकॉप्टर की मदद से तमिलनाडु से लेकर आध्र प्रदेश तक सामरिक और आर्थिक रूप से अहम ठिकानों की सुरक्षा की जाएगी। रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि Mk-III हेलीकॉप्टर हेलीकॉप्टर निर्माण के क्षेत्र में आत्मनिर्भरता की ओर भारत की बड़ी छलांग का संकेत है।

Subscribe to get breaking news alerts

HAL ने किया है ALH Mk-III हेलीकॉप्टर का निर्माण 
बता दें कि ALH Mk-III हेलीकॉप्टर का निर्माण हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) द्वारा किया गया है। यह ध्रुव हेलिकॉप्टर का नेवल वर्जन है। इसे उन्नत रडार के साथ-साथ इलेक्ट्रो-ऑप्टिकल सेंसर, फुल ग्लास कॉकपिट, हाई इनटेंसिटी वाली सर्चलाइट सहित अत्याधुनिक उपकरणों से लैस किया गया है। दिन हो या रात यह हेलिकॉप्टर हर वक्त काम कर सकता है। इसकी मदद से राहत और बचाव अभियान भी चलाया जा सकता है। 

यह भी पढ़ें- केंद्र सरकार ने की डिजीयात्रा ऐप की शुरुआत, लंबी लाइन में खड़े होने से यात्रियों को मिलेगी मुक्ति

ALH Mk-III मल्टीरोल हेलिकॉप्टर है। हमला करने के लिए इसमें भारी मशीन गन लगाने की सुविधा है। वहीं, इसका इस्तेमाल एयर एम्बुलेंस की तरह भी किया जा सकता है। 16 ALH Mk-III हेलीकॉप्टरों को चरणबद्ध तरीके से भारतीय तटरक्षक बल में शामिल किया गया है। इनमें से चार चेन्नई में तैनात हैं। 

यह भी पढ़ें- क्या है ई-रुपया, आम आदमी कैसे कर पाएगा डिजिटल करेंसी में लेनदेन, क्या होंगे फायदे; जानिए सबकुछ