Asianet News Hindi

यादें: जेठमलानी ने लड़े अफजल गुरु से लेकर इंदिरा-राजीव के हत्यारों के केस; क्या थी उनकी राय?

वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी का निधन हो गया। वे 95 साल के थे। लंबे वक्त से बीमार चल रहे थे। उन्होंने दिल्ली स्थित अपने आवास पर अंतिम सांस ली। दो हफ्तों से उनकी तबीयत काफी खराब बताई जा रही थी। 

Jethmalani fought Afzal Guru to Indira-Rajiv killers cases, what he says about this
Author
New Delhi, First Published Sep 8, 2019, 10:36 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी का निधन हो गया। वे 95 साल के थे। लंबे वक्त से बीमार चल रहे थे। उन्होंने दिल्ली स्थित अपने आवास पर अंतिम सांस ली। दो हफ्तों से उनकी तबीयत काफी खराब बताई जा रही थी। 

रामजेठमलानी वर्तमान में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) से बिहार से राज्यसभा सांसद थे। उन्होंने अटल सरकार में केंद्रीय कानून मंत्री के अलावा शहरी विकास मंत्रालय भी संभाला। 

जब इंदिरा-राजीव के हत्यारों से लेकर अफजल गुरु का केस लड़ा
राम जेठमलानी देश के जाने-माने वकील थे। उन्होंने कई विवादित केस भी लड़े। इनमें संसद हमले के दोषी अफजल गुरु, इंदिरा गांधी और राजीव गांधी के हत्यारों की पैरवी और आसाराम जैसे आरोपियों के केस शामिल हैं। उन्होंने लालू यादव की चारा घोटाला मामले में और अमित शाह की सोहराबुद्दीन एनकाउंटर मामले में पैरवी की। 

क्या थी उनकी राय?
रिटायरमेंट के बाद उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा था कि वकील का काम है केस लड़ना। अच्छे बुरे के आधार पर मामलों का चुनाव करना, वकालत के सिद्धांत के खिलाफ है। मैं बस ये देखता हूं कि मुझे केस देने वाले व्यक्ति के खिलाफ कितने झूठे गवाह तैयार किए गए। मेरे लिए व्यक्ति की छवि मायने नहीं रखती।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios