Asianet News HindiAsianet News Hindi

झारखंडः चुनाव से ठीक पहले नक्सलियों ने दी धमक, पुलिस वैन पर गोलियों की बौछार, 4 पुलिसकर्मी शहीद

विधानसभा चुनाव से ठीक पहले नक्सलियों ने आज अपनी उपस्थिति दर्ज करायी और लातेहार के चंदवा थाना क्षेत्र स्थित राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 22 पर लुकिया मोड़ में पुलिस की पीसीआर वैन पर गोलियों की बौछार कर दी। इस हमले में एक सहायक पुलिस उपनिरीक्षक (एएसआई) और तीन होमगार्ड जवान शहीद हो गये वहीं एक जवान लापता हो गया था जिसे बाद में बरामद कर लिया गया। 

Jharkhand: Naxalites threaten just before the election, gunfire on police van, 4 policemen martyred
Author
Chandwa, First Published Nov 23, 2019, 8:00 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

चंदवा. झारखंड के लातेहार जिले में शुक्रवार रात करीब आठ बजे पुलिस की पीसीआर वैन पर नक्सलियों द्वारा घात लगाकर किये गये हमले में एक सहायक पुलिस उपनिरीक्षक समेत चार पुलिसकर्मी शहीद हो गये जबकि एक अन्य संदिग्ध रूप से घायल लापता जवान सुरक्षित बरामद हो गया है। माओवादी सुरक्षा के तमाम इंतजाम के बावजूद चंदवा में भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा के सभास्थल से सिर्फ दो किलोमीटर की दूरी पर पुलिस की वैन पर हमला करने में सफल हो गये। पुलिस ने इस घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि घटनास्थल पर बड़ी संख्या में पुलिस बल को भेजा गया है। घटनास्थल से सिर्फ दो किलोमीटर दूर आज दिन में एक बजे भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष और पूर्व केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा की चुनावी रैली थी। कल लातेहार में ही मनिका विधानसभा क्षेत्र में अपनी चुनावी सभा में केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने राज्य को नक्सल मुक्त कर देने का दावा किया था और इसके लिए राज्य के मुख्यमंत्री की प्रशंसा की थी।

पीसीआर वैन पर की गोलियों की बौछार

विधानसभा चुनाव से ठीक पहले नक्सलियों ने आज अपनी उपस्थिति दर्ज करायी और लातेहार के चंदवा थाना क्षेत्र स्थित राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 22 पर लुकिया मोड़ में पुलिस की पीसीआर वैन पर गोलियों की बौछार कर दी। इस हमले में एक सहायक पुलिस उपनिरीक्षक (एएसआई) और तीन होमगार्ड जवान शहीद हो गये वहीं एक जवान लापता हो गया था जिसे बाद में बरामद कर लिया गया। शहीद एएसआई की पहचान सुकरा उरांव के रूप में की गयी है जबकि हमले में शहीद तीनों होमगार्ड जवानों की पहचान सिकंदर सिंह, जमुना प्रसाद और शंभू प्रसाद के रूप में की गयी है। हमले में जीवित बचे जवान की पहचान दिनेश राम बतायी गयी है। बताया जाता है कि वह हमले के समय संयोगवश शौच के लिए गया था। नक्सलियों ने इस घटना को थाने ने महज दो किलोमीटर की दूरी पर अंजाम दिया।

सीएम ने दिया कार्रवाई का आश्वासन 

इस घटना के बाद से इलाके में दहशत का माहौल है। शहीद जवानों में शंभू की मौत इलाज के लिए रांची ले जाये जाते समय रास्ते में हो गयी जबकि अन्य तीनों की मौत वारदातस्थल स्थान पर ही हो गयी थी। स्थानीय पुलिस सूत्रों ने बताया कि नक्सली जवानों के हथियार भी लूटकर ले गये। खुफिया सूत्रों ने यह भी बताया है कि आज इस इलाके में तीन से चार दर्जन माओवादियों की उपस्थिति की सूचना भी थी फिर भी सुरक्षा में चूक बेहद गंभीर मामला है। इस बीच मुख्यमंत्री रघुवर दास ने लातेहार घटना की निंदा करते हुए शहीद हुए जवानों के प्रति शोक संवेदना प्रकट की है और कहा है कि इन जवानों की शहादत बेकार नहीं जायेगी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios