Asianet News HindiAsianet News Hindi

विकास दुबे गिरफ्तार : उज्जैन में 2 घंटे की पूछताछ में कई बड़े खुलासे हुए, फिर अपने साथ ले गई यूपी STF

कानपुर के बिकरू में हुए शूटआउट का मुख्य आरोपी विकास दुबे उज्जैन से गिरफ्तार किया गया। वह महाकाल मंदिर में दर्शन के लिए गया था। यूपी, हरियाणा सहित 10 राज्यों की पुलिस उसे खोज रही थी। महाकाल मंदिर की सिक्योरिटी टीम ने उसे संदिग्ध जानकर पकड़ा। फिर महाकाल थाना पुलिस को सूचना दी। 

Kanpur encounter Vikas Dubey arrested in Ujjain kpn
Author
New Delhi, First Published Jul 9, 2020, 11:51 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. कानपुर के बिकरू में हुए शूटआउट का मुख्य आरोपी विकास दुबे उज्जैन से गिरफ्तार किया गया। वह महाकाल मंदिर में दर्शन के लिए गया था। यूपी, हरियाणा सहित 10 राज्यों की पुलिस उसे खोज रही थी। महाकाल मंदिर की सिक्योरिटी टीम ने उसे संदिग्ध जानकर पकड़ा। फिर महाकाल थाना पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया तो वह चिल्ला-चिल्लाकर कहने लगा कि मैं कानपुर वाला विकास दुबे हूं। 

गिरफ्तारी के 10 घंटे बाद ले गई यूपी एसटीएफ

विकास दुबे से 2 घंटे तक उज्जैन पुलिस ने पूछताछ की। इसके बाद गिरफ्तारी के 10 घंटे के बाद यूपी एसटीएफ उसे अपने साथ ले गई।

2 घंटे की पूछताछ में विकास दुबे ने क्या-क्या खुलासा किया?

पुलिस ट्रेनिंग सेंटर में विकास दुबे से पूछताछ हो रही है। पुलिस पूछताछ में विकास दुबे ने कबूला कि "पुलिसवालों के शवों को जलाकर सबूत मिटाने की योजना थी। मैंने सभी साथियों को अलग-अलग भागने के लिए कहा। चौबेपुर के अलावा दूसरे थानों में भी मेरे मददगार थे। विकास ने पुलिस के लूटे हुए हथियारों के बारे में भी बताया। पुलिसकर्मियों के शव को जलाने के लिए तेल लाए थे। हमें खबर थी कि पुलिस सुबह आएगी। लेकिन पुलिस सुबह की बजाय रात में ही आ गई।"  

 उज्जैन पहुंचने में दो वकीलों ने विकास दुबे की मदद की 

विकास दुबे को उज्जैन पहुंचने में दो वकीलों ने मदद की है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वकीलों का नाम बिट्टू और सुरेश है। पुलिस ने इन दोनों वकीलों को हिरासत में ले लिया है। इनसे पूछताछ की जा रही है। पुलिस को शक है कि यह दोनों रात में उज्जैन में होटल में रुके हुए थे। 

मां ने कहा, भोले बाबा ने बेटे की जान बचाई, सरकार जान बख्श दे

विकास की मां सरला देवी ने कहा, विकास की ससुराल मध्य प्रदेश में है। वह हर साल महाकाल के दर्शन के लिए उज्जैन जाता है। भोले बाबा ने मेरे बेटे की जान बचा ली। सरकार मेरे बेटे की जान बख्श दे।  

पूछताछ के लिए अज्ञात जगह ले गई उज्जैन पुलिस

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, विकास दुबे से पूछताछ के लिए उज्जैन पुलिस उसे अज्ञात जगह ले गई है। इसके बाद उसे उत्तर प्रदेश पुलिस के हवाले कर दिया जाएगा।

चार्टर्ड प्लेन के जरिए इंदौर आएगी यूपी एसटीएफ

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उज्जैन पुलिस विकास को कोर्ट में पेश नहीं करेगी, बल्कि सीधे यूपी एसटीएफ को सौंपेगी। एसटीएफ चार्टर्ड प्लेन के जरिए इंदौर आएगी और प्लेन के जरिए ही विकास दुबे को अपने साथ ले जाएगी। 


विकास दुबे की गिरफ्तारी पर खड़े हुए बड़े सवाल

यूपी सरकार पूरी तरह फेल, सीबीआई जांच हो : प्रियंका गांधी

प्रियंगा गांधी ने कहा, कानपुर के जघन्य हत्याकांड में यूपी सरकार को जिस मुस्तैदी से काम करना चाहिए था, वह पूरी तरह फेल साबित हुई। अलर्ट के बावजूद आरोपी का उज्जैन तक पहुंचना, न सिर्फ सुरक्षा के दावों की पोल खोलता है बल्कि मिलीभगत की ओर इशारा करता है। तीन महीने पुराने पत्र पर ‘नो एक्शन’ और कुख्यात अपराधियों की सूची में ‘विकास’ का नाम न होना बताता है कि इस मामले के तार दूर तक जुड़े हैं। यूपी सरकार को मामले की CBI जांच करा सभी तथ्यों और प्रोटेक्शन के ताल्लुकातों को जगज़ाहिर करना चाहिए। 

मिलीभगत का भंडाफोड़ होगा : अखिलेश यादव

अखिलेश यादव ने कहा, खबर आ रही है कि कानपुर-काण्ड का मुख्य अपराधी पुलिस की हिरासत में है। अगर ये सच है तो सरकार साफ करे कि ये आत्मसमर्पण है या गिरफ्तारी। साथ ही उसके मोबाइल की सीडीआर सार्वजनिक करे जिससे सच्ची मिलीभगत का भंडाफोड़ हो सके। 

यह प्रायोजित सरेंडर, भाजपा के वरिष्ठ नेता का हाथ : दिग्विजय सिंह

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह विकास दुबे की गिरफ्तारी पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा, उत्तर प्रदेश पुलिस के एनकाउंटर से बचने के लिए प्रायोजित सरेंडर लग रहा है। मेरी सूचना है कि मध्यप्रदेश भाजपा के एक वरिष्ठ नेता की वजह से यह संभव हुआ है। जय महाकाल।

नरोत्तम मिश्रा कानपुर में चुनाव प्रभारी थे : यूपी कांग्रेस

यूपी कांग्रेस ने भी विकास दुबे की गिरफ्तारी पर सवाल खड़े किए। उन्होंने ट्वीट किया, आप क्रोनोलॉजी समझिए। विकास दुबे उज्जैन से गिरफ्तार हुआ। नरोत्तम मिश्रा मध्यप्रदेश के गृह मंत्री है। नरोत्तम मिश्रा उज्जैन के प्रभारी मंत्री है। नरोत्तम मिश्रा कानपुर चुनाव में प्रभारी थे। विकास दुबे कानपुर का रहने वाला है।


विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद शिवराज सिंह चौहान और गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने क्या कहा?

हम किसी भी अपराधी को बख्शने वाले नहीं : शिवराज सिंह

विकास दुबे के गिरफ्तारी पर शिवराज सिंह चौहान ने कहा, जिनको लगता है कि महाकाल की शरण में जाने से उनके पाप धूल जाएंगे उन्होंने महाकाल को जाना ही नहीं। हमारी सरकार किसी भी अपराधी को बख्शने वाली नहीं है। 
- उन्होंने कहा, मध्य प्रदेश पुलित ने त्वरित कार्रवाई करते हुए इस उसको(विकास दुबे) गिरफ्तार किया। मैं मध्य प्रदेश पुलिस को इसके लिए बधाई देता हूं। हम उत्तर प्रदेश के निरंतर संपर्क में हैं, आगामी कार्रवाई के लिए उसको उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंपा जाएगा। 

पूरे प्रदेश की पुलिस अलर्ट पर थी : नरोत्तम मिश्रा

मध्य प्रदेश के मंत्री ने कहा, कानपुर की नृशंस घटना के बाद से ही हमने पूरे मध्य प्रदेश और पुलिस को अलर्ट कर रखा था, जैसे ही संदेह हुआ उसे उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार कर लिया गया।

विकास दुबे आत्मसमर्पण नहीं कर सकता: बिहार डीजीपी

बिहार के डीजीपी ने कहा, वो(विकास दूबे) आत्मसमर्पण नहीं कर सकता। अगर करना होता तो कहीं और कर सकता था, दिल्ली,हरियाणा ज़्यादा सुरक्षित था,ये मध्य प्रदेश पुलिस की कामयाबी है। यूपी पुलिस से उसे डर था इसलिए उसे कहीं बाहर जाना था। महाकाल ने उसे दर्शन ही नहीं दिया। दर्शन करने से पहले ही पकड़ा गया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios