Asianet News HindiAsianet News Hindi

donate eyes: मैरिज के दिन कपल ने 'आंखें' दान करने का लिया संकल्प; सुपर स्टार पुनीत राजकुमार दे गए प्रेरणा

कर्नाटक के हुबली में एक नवविवाहित जोड़े(Newly married couple) ने शादी के एक दिन पहले अपनी आंखें दान करने(donate eyes) का संकल्प लेकर एक प्रेरणा दी है। शादी के दिन एक काउंटर भी लगाया गया था, जहां आंखें दान करने के लिए संकल्प पत्र रखे हुए थे।

Karnataka Newly married couple takes pledge on their wedding day to donate eyes KPA
Author
Hubli, First Published Nov 11, 2021, 9:34 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हुबली, कर्नाटक. पिछले दिनों कन्नड़ के सुपर स्टार पुनीत राजकुमार(Puneeth Rajkumar) का निधन हो गया था। वे अपनी आंखें दान(eye donation) कर गए थे। उनका यह प्रयास एक मुहिम का रूप ले चुका है। अब हुबली(Hubli) में एक  नवविवाहित जोड़े ने अपनी आंखें दान करने का संकल्प पत्र भरकर एक मिसाल पेश की है।

मैरिज के समय एक काउंटर लगाया गया था
यह प्रेरक मामला हुबली का है। यहां एक कपल ने अपनी शादी की पूर्व संध्या पर अपनी आंखें दान करने का संकल्प लिया। कपल ने शादी समारोह स्थल पर एक काउंटर लगवाया था, ताकि इच्छुक लोग भी आंखें दान करने का संकल्प पत्र भर सकें। कपल ने कहा कि वे खुश हैं कि उनके परिजनों ने इसका समर्थन किया। न्यूज एजेंसी ANI से बातचीत में दूल्हे सुचित ने कहा कि उन्हें ऐसा करते हुए खुशी हुई।  नेत्र रोग विशेषज्ञ(Ophthalmologist ) डॉ. श्रीनिवास जोशी ने कहा- 'हमारे देश में, मृत्यु के बाद शवों को आंखों के साथ दफनाया जाता है। यदि हम सभी 6 महीने के भीतर मृत्यु के बाद नेत्रदान करने का निर्णय लेते हैं, तो भारत कॉर्नियल ब्लाइंडनेस मुक्त हो सकता है।' शादी में मौजूद डॉक्टर ने लोगों से नेत्रदान करने के लिए आगे आने की अपील की।

कर्नाटक में चल पड़ी है मुहिम
कन्नड़ सुपर स्टार पुनीत राजकुमार द्वारा अपनी आंखें दान करने के बाद कर्नाटक में इस दिशा में एक मुहिम चल पड़ी है। बेंगलुरु स्थित नारायण नेत्रालय के संस्थापक डॉ. भुजंगा शेट्टी के मुताबिक, पुनीत राजकुमार के निधन के 4-5 दिनों में ही 1500 लोग आंख दान करने का संकल्प पत्र भरने आगे आए। बता दें कि शेट्टी ने ही पुनीत राजकुमार की आंखें एकत्र की थीं।

कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री भी कर चुके हैं अपील
इससे पहले अप्रैल में विश्व स्वास्थ्य दिवस पर कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. के सुधाकर ने नेत्रदान के महत्व को बताते हुए लोगों ने आंखें दान करने की अपील की थी। उन्होंने खुद भी अपनी आंखें दान करने का संकल्प पत्र भरा है। मंत्री ने तब कहा था-'इस विश्व स्वास्थ्य दिवस पर आंखें दान करने के निर्णय से मुझे तृप्ति मिली है। आंखें हमारी मौत के बाद दूसरों के जीवन में आशा और प्रकाश की किरण ला सकती हैं।'

यह भी पढ़ें
Maharashtra : औरंगाबाद में Vaccine नहीं लगवाने वालों को राशन और पेट्रोल की आपूर्ति बंद!
राष्ट्रपति ने119 लोगों को दिया पद्म Award लेकिन चर्चा सिर्फ इन चुनिंदा लोगों की ही क्यों?
Heavy Rainfall: भारी बारिश में भी सड़क से गंदगी हटाती रही लेडी सफाई कर्मचारी, लोगों ने किया सैल्यूट

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios