मुंबई (Mumbai). शिवा सेना और भाजपा अगले महीने होने वाले महाराष्ट्र विधानसभा का चुनाव मिलकर लड़ेंगे। शिव सेना के एक वरिष्ठ नेता ने शुक्रवार यह जानकारी दी। शिव सेना के सचिव अनिल देसाई ने एक टीवी चैनल को बताया कि गठबंधन की घोषणा भाजपा प्रमुख अमित शाह की 22 सितंबर को मुंबई यात्रा के दौरान या उसके बाद की जाएगी। देसाई की टिप्पणी चुनावी की तैयारियों पर चर्चा के लिए शिव सेना के वरिष्ठ नेताओं की बैठक के मौके पर आई। यह बैठक शुक्रवार को मुंबई में हुई।

देसाई ने मीडिया में आई इस रिपोर्ट पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया कि शिव सेना 126 सीटों पर और भाजपा 162 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। महाराष्ट्र में कुल 288 विधानसभा सीटें हैं। देसाई ने कहा कि सीटों के बंटवारे के बारे में उद्धव ठाकरे और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस मिलकर तय करेंगे।

50-50 का फॉर्मूला

शिव सेना के वरिष्ठ नेता और महाराष्ट्र सरकार के मंत्री दिवाकर राओते ने हाल ही में कहा था कि अगर शिव सेना को 50 प्रतिशत सीटें नहीं मिलीं तो गठबंधन टूट जाएगा। इसके कुछ दिन बाद सेना के नेता संजय राउत ने कहा, “भाजपा को 50-50 फॉर्मूले का सम्मान करना चाहिए, जिसके बारे में शाह और फडणवीस की मौजूदगी में निर्णय होगा।”

2014 के चुनाव में बंटवारे से नहीं थे सहमत

महाराष्ट्र में 2014 में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा और शिव सेना के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर सहमति नहीं बन सकी थी और उन्होंने अलग-अलग चुनाव लड़ा। हालांकि, चुनाव के बाद शिव सेना ने भाजपा को समर्थन दिया और सरकार में शामिल हुई।

 

[यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है]