Asianet News HindiAsianet News Hindi

कृषि कानून पर आपस में भिड़े आप और भाजपा पार्षद, नगर निगम ऑफिस में चले जूते चप्पल

कृषि कानून को लेकर सियासत इन दिनों गरम है। पिछले 32 दिनों से सिंघू बॉर्डर पर किसान कृषि बिल का विरोध कर रहे हैं। ऐसे में अब पूर्वी दिल्ली के नगर निगम ऑफिस में आम आदमी पार्टी (AAP) और भाजपा पार्षदों ने जमककर हंगामा मचाया।

Krishi Andolan updates BJP AAM Aadmi party Aap Councillors fight With Sleepers And Shoe here is video Delhi municipal Corporation KPY
Author
New Delhi, First Published Dec 28, 2020, 7:31 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. कृषि कानून को लेकर सियासत इन दिनों गरम है। पिछले 32 दिनों से सिंघू बॉर्डर पर किसान कृषि बिल का विरोध कर रहे हैं। ऐसे में अब पूर्वी दिल्ली के नगर निगम ऑफिस में आम आदमी पार्टी (AAP) और भाजपा पार्षदों ने जमककर हंगामा मचाया। दोनों पक्षों के बीच जमकर जूते-चप्पल भी चले। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, पार्षद फंड की हेराफेरी और केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। तभी उनके बीच मारपीट शुरू हो गई। इनकी इस लड़ाई का एक वीडियो भी एजेंसी ने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है। सदन की कार्यवाही को स्थगित करने के लिए लिया गया ऐक्शन...

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पार्षदों पर सदन की कार्यवाही बाधित करने के लिए ऐक्शन भी लिया गया है। वीडियो में कुछ पार्षद हाथ में चप्पल तो कुछ पार्षद जूता लहराते नजर आ रहे हैं। भाजपा पार्षदों ने 'केजरीवाल शर्म करो और निगम का पैसा जारी करो' के नारे लगाए।

 

AAP नेता ने लहराए पर्चे

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो भाजपा शासित उत्तरी नगर निगम में कथित तौर पर 2500 करोड़ रुपए की हेराफेरी को लेकर आप पार्षद हंगामा करने लगे। इसस दौरान वो ऑफिस में पर्चे लहरा रहे थे और नारेबाजी भी कर रहे थे। उनकी मांग है कि मामले की CBI जांच कराई जाए।

यह भी पढ़ें: किसान आंदोलन: किसानों और सरकार के बीच 30 दिसंबर को होगी बातचीत, इन प्वाइंट्स पर होगी चर्चा

भाजपा ने भी लगाया ये आरोप 

भाजपा पार्षदों ने दिल्ली सरकार पर निगम कर्मचारियों को सैलररी नाा देने का आरोप लगाया। उन्होंने बताया कि दिल्ली सरकार निगम कर्मचारियों की सैलरी का पैसा रिलीज नहीं कर रही है। भाजपा पार्षदों ने भी दिल्ली सरकार के खिलाभ नारेबाजी की। इस दौरान दोनों पक्षों के बीच हाथापाई शुरू हो गई। 

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी ने 100वीं किसान रेल को दिखाई हरी झंडी, बोले- 'किसानों के लिए करते रहेंगे काम'

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios