Asianet News HindiAsianet News Hindi

INX मीडिया केस : कुमार विश्वास का मोदी-शाह को लेकर चिदंबरम पर तंज- निर्दोष हैं तो मैदान में लड़िए

INX मीडिया मामले में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को बुधवार को सुप्रीम कोर्ट से राहत नहीं मिली। जस्टिस एनवी रमना की पीठ ने मामले पर तुरंत सुनवाई से इनकार कर दिया। चिदंबरम दिल्ली कोर्ट से जमानत याचिका खारिज होने के बाद से फरार हैं।

kumar vishwas says to chidambaram on Inx media, if you are innocent, come forward
Author
New Delhi, First Published Aug 21, 2019, 4:09 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. INX मीडिया मामले में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को बुधवार को सुप्रीम कोर्ट से राहत नहीं मिली। जस्टिस एनवी रमना की पीठ ने मामले पर तुरंत सुनवाई से इनकार कर दिया। चिदंबरम दिल्ली कोर्ट से जमानत याचिका खारिज होने के बाद से फरार हैं। इसी के चलते उधर, प्रवर्तन निदेशालय ने चिदंबरम के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी कर दिया। आरोप है कि 2007 में  वित्त मंत्री रहने के दौरान उन्होंने रिश्वत लेकर विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) से आईएनएक्स मीडिया को विदेश निवेश के लिए 305 करोड़ रुपए की मंजूरी दिलाई थी। 

कांग्रेस इस मामले को राजनीति से प्रेरित बता रही है। इसी बीच कुमार विश्वास ने ट्वीट कर चिदंबरम पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि जांच राजनीति से प्रेरित हो सकती है। आज के प्रधानमंत्री और गृहमंत्री के खिलाफ भी वर्षों तक होती रही है! लेकिन राजनीति में होकर,देश के पूर्व कानून/गृहमंत्री/वित्तमंत्री जी, कानून से भागकर आप अपना और अपने दल का पक्ष कमजोर ही कर रहे हैं ! निर्दोष हैं तो मैदान में लड़िए।

मोदी-शाह को लेकर विश्वास ने कसा तंज
दरअसल, मनमोहन सरकार में पी चिदंबरम देश के गृह मंत्री थे। उस वक्त सोहराबुद्दीन शेख एनकाउंटर मामले में अमित शाह पर कार्रवाई हुई थी। 25 जुलाई 2010 को शाह गिरफ्तार हुए थे। 29 अक्टूबर, 2010 को शाह को गुजरात हाईकोर्ट से जमानत मिल गई थी। इसे लेकर भाजपा ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा था और राजनीति से प्रेरित बताया था।  2015 में सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने अमित शाह को इस मामले में बरी कर दिया।

दिल्ली कोर्ट के फैसले के बाद बढ़ीं चिदंबरम की मुश्किलें
इससे पहले मंगलवार को आईएनएक्स मीडिया में भ्रष्टाचार मामले दिल्ली हाईकोर्ट ने उनकी जमानत याचिका को खारीज कर दिया था। इसके बाद अब उन्होंने सुप्रीम कोर्ट का रूख किया। दिल्ली कोर्ट के फैसले के बाद सीबीआई और ईडी ने चिदंबरम के घर छापा भी मारा था। लेकिन चिदंबरम फरार हो गए।

राहुल और प्रियंका ने किया समर्थन
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी ने चिदंबरम का समर्थन किया। राहुल ने कहा, ''मोदी सरकार ईडी, सीबीआई और मीडिया के एक समूह का इस्तेमाल चिदंबरम के चरित्र हनन के लिए कर रही है। मैं सत्ता के इस दुरुपयोग की निंदा करता हूं।'' वहीं,  प्रियंका गांधी ने उन्हें देश का सेवक और सम्मानित सांसद बताया। उन्होंने कहा कि वह चिदंबरम के साथ हर वक्त और नतीजों की परवाह किए बगैर, सच्चाई के साथ खड़ी हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios