Asianet News Hindi

Budget पर नेताओं का रिएक्शनः राजनाथ सिंह ने कहा- शानदार, अधीर रंजन ने बताया निजीकरण की झलक

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, लोगों को उम्मीद नहीं थी कि इस प्रकार का बजट पेश होगा क्योंकि इससे पहले भी एक तरह से पांच मिनी बजट पेश हुए हैं। ये बहुत ही शानदार बजट है इस​की जितनी प्रशंसा की जाए वो कम है। रक्षा क्षेत्र के बजट में बढ़ोतरी हुई है।
 

Leaders reaction after Finance Minister Nirmala Sitharaman presented the budget kpn
Author
New Delhi, First Published Feb 1, 2021, 3:32 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मोदी सरकार के तहत 9वां बजट पेश किया। बजट में सबसे ज्यादा स्वास्थ्य पर फोकस किया गया। टैक्स स्लैब को लेकर कोई नई घोषणा नहीं की गई। पहले की तरह से टैक्स स्लैब को रखा गया है। हालांकि पेंशनधारी 75 साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्गों को टैक्स में छूट दी गई है। ऐसे में जानते हैं कि बजट पेश करने के बाद राजनीतिक पार्टियों के नेताओं ने क्या-क्या प्रतिक्रिया दी।

राजनाथ सिंह- शानदार बजट
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, लोगों को उम्मीद नहीं थी कि इस प्रकार का बजट पेश होगा क्योंकि इससे पहले भी एक तरह से पांच मिनी बजट पेश हुए हैं। ये बहुत ही शानदार बजट है इस​की जितनी प्रशंसा की जाए वो कम है। रक्षा क्षेत्र के बजट में बढ़ोतरी हुई है।

चिराग पासवान- संतुलित बजट
एलजेपी नेता चिराग पासवान ने कहा, वित्त मंत्री ने एक संतुलित बजट पेश किया है। कोरोना से सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया प्रभावित है उसके बावजूद बजट में हर वर्ग ध्यान रखा गया है। इस महामारी के दौरान इससे संतुलित बजट नहीं हो सकता।

फारूक- कहने को तो बहुत कुछ
नेशनल कॉन्फ्रेंस नेता फारूक अब्दुल्ला ने लद्दाख में केंद्रीय विश्वविद्यालय बनाने के प्रस्ताव पर कहा, केंद्रीय विश्वविद्यालय बनाते-बनाते भी जिंदगी गुजर जाएगी। कहने को तो बहुत कुछ है लेकिन इसमें(बजट) से कितना निकलेगा ये पता चलेगा।

अमिताभ कांत- बहुत शानदार
नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने कहा, बजट बहुत शानदार है क्योंकि यह अगले 3-4 साल की दिशा दे रहा है। सरकार ने इंफ्रास्ट्रक्चर पर फोकस किया है। शिक्षा और स्वास्थ्य पर बहुत फोकस है। यह बहुत व्यवहारिक बजट है। कोई नया कर नहीं लगाया गया है जो बहुत बड़ी बात है। यह बजट आम आदमी के अनुकूल है।

अखिलेश यादव- इस बजट ने क्या होगा?
सपा नेता अखिलेश यादव ने कहा, इस बजट ने उन सभी प्रदर्शनकारी किसानों को क्या दिया? बीजेपी हमेशा कहती थी कि वो आय दोगुनी करेगी, क्या इस बजट से किसानों की आय दोगुनी हो रही? हमारे युवा जो पढ़ाई करना चाहते हैं उनके लिए काम, रोज़गार के लिए इस बजट में क्या व्यवस्था की गई है, क्या इनको रोज़गार मिलेगा।

अधीर रंजन- बजट में निजीकरण की राह
कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा, हमें उम्मीद थी कि असाधारण स्थिति में जब बजट पेश होगा तो इसमें असाधरण कदम उठाने की झलक मिलेगी। लेकिन सरकार असाधारण स्थिति में बड़े साधारण और निजीकरण की राह पकड़ कर खुद को बचाना चाहती है।

स्वास्थ्य मंत्री- सपना पूरा हुआ
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, लंबे समय से हम जो सपना देखते थे, वो सपना नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में साकार हुआ है। लोगों के स्वास्थ्य और कल्याण को केंद्र में जगह मिली है। स्वास्थ्य के क्षेत्र में निवेश 137% बढ़ा है, ये पिछले साल के अनुमानित बजट से 2.37 गुना ज़्यादा है।

योगी- व्यवहारिक बजट
योगी आदित्यनाथ ने कहा, बजट में समाज के हर तबके के लिए बहुत कुछ प्रावधान किया गया है। इसमें देश के इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास के लिए जो प्रयास हुआ है और स्वास्थ्य के क्षेत्र में बदलाव करने के लिए जिस प्रकार की कार्ययोजना बनाई गई है वह अभिनंदनीय है। यह बहुत महत्वपूर्ण और व्यवहारिक बजट है।

अश्विनी चौब- आत्मनिर्भर भारत को मिलेगी मजबूती
केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने कहा, यह बजट आत्मनिर्भर भारत को मज़बूत बनाने का बजट है। ये सभी सेक्टरों को ध्यान में रखकर बनाया गया है,स्वास्थ्य सेक्टर में लगभग 137% की वृद्धि की गई।ये बजट 70,000 गांवों को मजबूत करेगा। 602 गांवों में डिस्ट्रिक्ट लेवल पर क्लीनिक बनेंगे वो विशेष उपलब्धि है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios