Asianet News Hindi

कोयला घोटाला: CBI ने पूछताछ के लिए समन भेज बुलाया तो जवाब में कहा- मैं नहीं, आप चलकर मेरे घर आईए

कोयला घोटाले की सीबीआई जांच की आंच सीएम ममता बनर्जी के परिवार तक जा पहुंचा है। सीबीआई ने ममता के भतीजे और टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजिरा बनर्जी को समन भेजा। जवाब में रुजिरा ने कहा कि कथित कोयला घोटाले में पूछताछ के लिए सीबीआई अपनी एक टीम उनके घर पर भेजे। 

Mamata Banerjee daughter in law Rujira Banerjee gave shocking reply to CBI kpn
Author
New Delhi, First Published Feb 22, 2021, 1:45 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कोलकाता. कोयला घोटाले की सीबीआई जांच की आंच सीएम ममता बनर्जी के परिवार तक जा पहुंचा है। सीबीआई ने ममता के भतीजे और टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजिरा बनर्जी को समन भेजा। जवाब में रुजिरा ने कहा कि कथित कोयला घोटाले में पूछताछ के लिए सीबीआई अपनी एक टीम उनके घर पर भेजे। अपील को सीबीआई ने स्वीकार कर लिया है और उनसे कल उनके आवास पर पूछताछ की जाएगी।

सीबीआई ने पूछताछ के लिए बुलाया था
बता दें कि सीबीआई ने रुजिरा बनर्जी को पूछताछ के लिए समन भेज बुलाया था। सीबीआई की एक टीम समन देने के लिए रुजिरा के घर गई थी, लेकिन वे घर पर मौजूद नहीं थीं। 

रुजिरा ने समन का जवाब देते हुए सीबीआई को मंगलवार सुबह 11 बजे से दोपहर 3 बजे के बीच अपने घर पर आने को कहा है। उसने पत्र में लिखा, मैं इस कारण से अनभिज्ञ हूं कि मुझे पूछताछ के लिए क्यों बुलाया जा रहा है या जांच का विषय क्या है? आप अपनी सुविधानुसार कल 23 फरवरी को मेरे आवास पर आ सकते हैं। आप कब आएंगे कृपया इसकी जानकारी मुझे दे दें। 

क्या है पश्चिम बंगाल का कोयला घोटाला?
पिछले साल नवंबर में भारत-बांग्लादेश सीमा पर बड़े तस्करी का भंडाफोड़ हुआ। इसमें तस्करी के कथित सरगना इनामुल हक की गिरफ्तारी हुई। तस्करी के तार यूथ तृणमूल कांग्रेस के जनरल सेक्रेटरी नेता विनय मिश्रा तक पहुंचे। 

31 दिसंबर 2020 को कोलकाता में विनय मिश्रा के खिलाफ पशु तस्करी और अवैध कोयला खनन के मामले में तलाशी अभियान चलाया गया। विनय के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी हुआ। विनय मिश्रा फरार हो गया। विनय मिश्रा को अभिषेक बनर्जी के करीबी के तौर पर जाना जाता है। सीबीआई को शक है कि कोयला घोटाले से जुड़े कुछ संदिग्ध लेन देन अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजिरा और उनकी बहन के खाते से हो सकते हैं। 

ममता बनर्जी पर क्या आरोप लगा?
पिछले साल सितंबर में कोयला घोटाले की जांच शुरू हुई। भाजपा नेताओं का आरोप है कि कोयला घोटाले से मिले पैसों को टीएमसी के नेताओं ने शेल कंपनियों के जरिए व्हाइट मनी में बदला। इससे सबसे ज्यादा फायदा सीएम ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी को हुआ। अभिषेक बनर्जी टीएमसी की युवा विंग के अध्यक्ष हैं। विनय मिश्रा उसी युवा विंग के नेता हैं। विनय मिश्रा शुरू से ही कोयला घोटाले के आरोपी हैं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios