Asianet News HindiAsianet News Hindi

Manipur: Rahul Gandhi ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, बोले-लगातार साबित हो रहा देश की रक्षा में केंद्र असमर्थ

मणिपुर में एक उग्रवादी समूह के संदिग्ध उग्रवादियों के हमले में असम राइफल्स की खुगा बटालियन के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल विप्लव त्रिपाठी, उनकी पत्नी अनुजा (36) और आठ साल का बेटा अबीर के अलावा अर्धसैनिक बल के चार जवान शहीद हो गए। 

Manipur Assam Rifles Colonel Viplav Tripathi and seven killed, Congress Rahul Gandhi pay homage and attacked on Modi Government alleging incapability DVG
Author
New Delhi, First Published Nov 14, 2021, 2:19 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। मणिपुर (Manipur) में असम राइफल्स (Assam Rifles) के काफिले पर हमला किए जाने और कर्नल (colonel), उनके परिवार समेत सात जवानों की हत्या पर कांग्रेस (Congress) ने केंद्र सरकार को कटघरे में खड़ा किया है। पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यह घटना एक बार फिर साबित करती है कि केंद्र सरकार देश की रक्षा करने में असमर्थ है। राहुल गांधी ने हमले में जान गंवाने वालों के परिवारों के प्रति भी संवेदना व्यक्त की है।

कांग्रेस नेता ने एक ट्वीट में कहा, "मणिपुर में सेना के काफिले पर आतंकवादी हमला एक बार फिर साबित करता है कि मोदी सरकार राष्ट्र की रक्षा करने में सक्षम नहीं है। शहीदों के प्रति मेरी संवेदना और उनके परिवारों के प्रति संवेदना है। राष्ट्र आपके बलिदान को याद रखेगा।" 

कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने भी केंद्र सरकार को घेरा

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत और पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश सहित अन्य कांग्रेस नेताओं ने भी हमले की निंदा की और इसके पीछे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। राजस्थान के मुख्यमंत्री गहलोत ने ट्विटर पर कहा, "मणिपुर के चुराचांदपुर में असम राइफल्स के काफिले पर कायरतापूर्ण हमले की कड़ी निंदा करता हूं, जिसमें पांच बहादुर जवानों और परिवार के दो सदस्यों की जान चली गई। उनकी शहादत को सलाम और शोक संतप्त परिवारों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करें।"

पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने कहा, "यह पूरी तरह से चौंकाने वाला और गहरा दुखद है! उम्मीद है कि जिम्मेदार लोगों को जल्द ही न्याय के दायरे में लाया जाएगा।"

कर्नल का परिवार समेत सात लोग हुए शहीद

मणिपुर में एक उग्रवादी समूह पीपुल्स रिवोल्यूशनरी पार्टी ऑफ कंगलीपाक (PREPAK) के संदिग्ध उग्रवादियों ने कर्नल त्रिपाठी के काफिले को चुराचांदपुर जिले के सेहकन गांव में शनिवार को निशाना बनाया। इस हमले में असम राइफल्स की खुगा बटालियन के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल विप्लव त्रिपाठी, उनकी पत्नी अनुजा (36) और आठ साल का बेटा अबीर के अलावा अर्धसैनिक बल के चार जवान शहीद हो गए। 

यह भी पढ़ें: 

Gadhchirauli: 50 लाख का इनामिया जोनल चीफ मिलिंद भी मारा गया, बेहद पढ़ा-लिखा है परिवार, बड़े भाई की पत्नी हैं डॉ.अंबेडकर की पोती

Air Pollution: 386 पर AQI, जहरीले माहौल में सांस लेना दिल्लीवालों की मजबूरी, अगले पांच दिनों तक राहत नहीं

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios