Asianet News Hindi

किसानों को तोहफा : गेहूं के MSP मूल्य में 50 रु. और चना- सरसों में 225 रु. प्रति क्विंटल का इजाफा

सरकार ने सोमवार को लोकसभा में रबी की फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य 50 रूपए क्वींटल बढ़ाकर 1975 रूपये क्वींटल कर दिया है। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने यह जानकारी लोकसभा में दी। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की समिति (सीसीईए) की बैठक में यह फैसला किया गया है। 

Modi government's gift to farmers amidst opposition to agricultural bills, increased MSP of Rabi crops
Author
Delhi, First Published Sep 21, 2020, 7:18 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. सरकार ने सोमवार को लोकसभा में रबी की फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य 50 रुपए क्वींटल बढ़ाकर 1975 रुपए क्वींटल कर दिया है। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने यह जानकारी लोकसभा में दी। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की समिति (सीसीईए) की बैठक में यह फैसला किया गया है। यह जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि देश के किसानों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य की व्यवस्था बनी रहेगी।

6 फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाया गया

संसद में किसान बिलों पर विपक्ष के हंगामे के बीच सरकार ने सोमवार को रबी की 6 फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) बढ़ा दिया। गेहूं के समर्थन मूल्य में 50 रुपए /प्रति क्विंटल का इजाफा किया है। 

 न्‍यूनतम समर्थनमूल्‍य (एमएसपी)

फसलें

आरएमएस 2020-21 के लिए एमएसपी (रुपये/क्विंटल)

आरएमएस 2021-22 के लिए एमएसपी (रुपये/क्विंटल)

उत्‍पादन की लागत*

2021-22

(रुपए/क्विंटल)

एमएसपी में  वृद्धि (रुपए/क्विंटल)

लागत के ऊपर मुनाफा

(प्रतिशत में)

गेहूं

1925

1975

960

50

106

जौ

1525

1600

971

75

65

चना

4875

5100

2866

225

78

लेन्‍टिल (मसूर)

4800

5100

2864

300

78

रेपसीड एवं सरसों

4425

4650

2415

225

93

कुसुम्‍भ

5215

5327

3551

112

50

कृषि मंत्री तोमर की यह घोषणा ऐसे समय आई है जब रविवार को कृषि से जुड़े दो बिलों को केंद्र सरकार ने राज्यसभा में ध्वनिमत से पास करा दिया था। विपक्षी दलों के साथ पंजाब, हरियाणा समेत देश के कई हिस्सों में इन विधेयकों के पास होने पर विरोध प्रदर्शन चल रहे हैं। कृषि मंत्री ने कहा कि सीसीईए की बैठक में छह रबी की फसलों के एमएसपी में वृद्धि करने को मंजूरी प्रदान की गई थी। इसपर भी कांग्रेस के कुछ सांसद कृषि मंत्री से स्पष्टिकरण चाहते थे लेकिन लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने इसकी अनुमति नहीं दी।   

MSP यानी न्यूनतम समर्थन मूल्य क्या होता है?

किसानों को उसकी फसल का लागत से ज्यादा मूल्य मिले, इसके लिए भारत सरकार देशभर में एक न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) तय करती है। खरीददार नहीं मिलने पर सरकार MSP पर किसान से फसल खरीद लेती है। भले ही बाजार में उस फसल की कीमतें कम हों। इसके पीछे तर्क यह है कि बाजार में फसलों की कीमतों में होने वाले उतार-चढ़ाव का किसानों पर असर न पड़े। उन्हें न्यूनतम कीमत मिलती रहे।

रबी की फसल क्या होती है?

रबी की फसल उत्तर भारत में अक्टूबर और नवंबर महीने के दौरान बोई जाती है, जो कम तापमान में बोई जाती है। फसल की कटाई फरवरी और मार्च महीने में की जाती है। उदाहरण के तौर पर गेहूं, जौ, चना, मसूर, सरसों आदि की फसलें रबी की फसल मानी जाती हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios