Asianet News Hindi

MP हनी ट्रैप मामला: आरोपी जीतू सोनी गुजरात से हुआ अरेस्ट, 56 केसों में है आरोपी

इससे पहले, एक और अखबार के मालिक जीतू सोनी के भाई, महेंद्र सोनी को पुलिस ने गुजरात के अमरेली से गिरफ्तार किया गया था। महेंद्र सोनी पर पूर्ववर्ती मध्य प्रदेश सरकार ने 10,000 का ईनाम रखा था। महेंद्र सोनी को भी जीतू सोनी के साथ कई मामलों में सह आरोपी बनाया गया था। 

MP honey Trap case jeetu Soni owner of newspaper arrested from gujrat by crime Branch KPY
Author
Bhopal, First Published Jun 28, 2020, 12:07 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भोपाल. मध्यप्रदेश का बहुचर्चित मामला हनी ट्रैप इंदौर पुलिस ने गुजरात में जाकर गिरफ्तारी की है। इंदौर से प्रकाशित किया जाने वाले एक अखबार के मालिक जीतू सोनी को क्राइम ब्रांच ने गुजरात से अरेस्ट किया है। जीतू सोनी के खिलाफ रेप, गैंगरेप, मानव तस्करी और जबरन वसूली सहित 56 केस दर्ज किए गए हैं। उसके खिलाफ ये मामले पिछली कमल नाथ सरकार द्वारा दर्ज किए गए थे।

इन्हें भी किया जा चुका है गिरफ्तार 

इससे पहले, एक और अखबार के मालिक जीतू सोनी के भाई, महेंद्र सोनी को पुलिस ने गुजरात के अमरेली से गिरफ्तार किया गया था। महेंद्र सोनी पर पूर्ववर्ती मध्य प्रदेश सरकार ने 10,000 का ईनाम रखा था। महेंद्र सोनी को भी जीतू सोनी के साथ कई मामलों में सह आरोपी बनाया गया था। जीतू सोनी पर तत्कालीन कमल नाथ सरकार ने कई कार्रवाई की थी। राज्य में कमलनाथ सरकार ने शिवराज सिंह चौहान और उनके टॉप सलाहकारों और बीजेपी नेताओं की लड़कियों से कथित बातचीत को अखबार में छापने के बाद जीतू सोनी के खिलाफ एक्शन लिया था।

जीतू सोनी ने साथ बातचीत का ऑडियो अपने अखबार के यूट्यूब चैनल पर भी जारी कर दिया था। मध्य प्रदेश पुलिस ने उस पर 1,60,000 रुपए का इनाम घोषित किया था। पूर्व की कांग्रेस सरकार के समय यानी 31 नवंबर, 2019 को पुलिस ने पहली बार उसके होटल माय होम सहित अन्य ठिकानों पर छापा मारा था। तब जीतू सोनी फरार हो गया था। तब से पुलिस उसके तलाश में जुटी हुई थी।

की गई थी कड़ी कार्रवाई

दरअसल, हनी ट्रैप का खुलासा करके सुर्खियों में आए अखबार मालिक जीतू सोनी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की गई थी। इंदौर नगर निगम ने प्रेस कॉम्प्लेक्स क्षेत्र में स्थित सांझा लोकस्वामी के दफ्तर को भी तोड़ने का आदेश दिया था। जीतू सोनी सांझा लोकस्वामी अखबार के मालिक हैं। अखबार के लिए जीतू सोनी ने इंदौर विकास प्राधिकरण (आईडीए) से जमीन लीज पर ली थी, जिसकी लीज को खारिज कर दिया गया था। जीतू सोनी के कई होटलों और बंगलों को पहले ही जमींदोज किया जा चुका है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios