नई दिल्ली. पीएम मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए डॉक्टर जोसेफ मार थोमा मेट्रोपॉलिटन (90th birth anniversary celebrations of the Reverend Dr. Joseph Mar Thoma Metropolitan) की 90 वीं जयंती पर संबोधित किया। उन्होंने कहा, भारत हमेशा कई स्रोतों से आध्यात्मिक प्रभावों के लिए खुला रहा है। डॉक्टर जोसेफ मार थोमा ने हमारे समाज और राष्ट्र की भलाई के लिए अपना जीवन समर्पित किया है। यह विनम्रता की भावना के साथ है कि मार थोमा चर्च ने हमारे साथी भारतीयों के जीवन में एक सकारात्मक अंतर लाने के लिए काम किया है। उन्होंने स्वास्थ्य सेवा और शिक्षा जैसे क्षेत्रों में ऐसा किया है।  

"कोरोना: भारत की स्थिति अन्य देशों से बेहतर"

पीएम मोदी ने कहा, भारत और विदेश से मार थोमा चर्च के कई अनुयायियों ने इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया। लॉकडाउन की वजह से सरकार और लोगों द्वारा लड़ी जा रही लड़ाई में कई पहल की गईं। भारत की स्थिति अन्य देशों की तुलना में बहुत बेहतर है। भारत में रिकवरी रेट बढ़ रहा है।  

"हम लिंग, जाति, पंथ या भाषा के बीच भेदभाव नहीं करते हैं"

पीएम मोदी ने कहा, भारत सरकार विश्वास, लिंग, जाति, पंथ या भाषा के बीच भेदभाव नहीं करती है। हम 130 करोड़ भारतीयों को सशक्त बनाने की इच्छा से काम करते हैं। हमारा मार्गदर्शक भारत का संविधान है।

"गरीबों की मदद के लिए एक राष्ट्र-एक राशन कार्ड योजना"

उन्होंने कहा, गरीबों के लिए हम उनकी मदद करने के लिए एक राष्ट्र-एक राशन कार्ड योजना ला रहे हैं। मध्यम वर्ग के लिए हमने ईज ऑफ लिविंग को बढ़ावा देने के लिए कई पहल की हैं। किसानों के लिए हमने एमएसपी में वृद्धि की है और सुनिश्चित किया है कि उन्हें सही मूल्य मिले।

- "हम बेहतर प्रौद्योगिकी, बुनियादी ढांचा और मूल्य श्रृंखलाओं को मजबूत बनाना सुनिश्चित करना चाहते हैं। मुझे विश्वास है कि केरल में मेरी मछुआरे बहनें और भाई इस योजना से लाभान्वित होंगे।" 

"बेघरों को आश्रय देने के लिए डेढ़ करोड़ घर बनाए गए"

पीएम मोदी ने कहा, 8 करोड़ से अधिक परिवारों के पास धूंआ मुक्त रसोई है। बेघरों को आश्रय देने के लिए डेढ़ करोड़ से अधिक घर बनाए गए हैं। भारत दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य सेवा आयुष्मान भारत योजना है।