Asianet News HindiAsianet News Hindi

शरद पवार ने कहा, एनसीपी अजित के साथ नहीं, शपथ ग्रहण देख मैं खुद आश्चर्य में था

महाराष्ट्र में राजनीतिक घटनाक्रम के बीच एनसीपी नेता शरद पवार, शिवसेना नेता उद्धव ठाकरे मीडिया को संबोधित करेंगे। इसमें कांग्रेस भी शामिल रहेगी।

NCP Chief Sharad Pawar and Shiv Sena Chief Uddhav Thackeray address media news and update
Author
Mumbai, First Published Nov 23, 2019, 12:36 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. महाराष्ट्र में राजनीतिक घटनाक्रम के बीच एनसीपी नेता शरद पवार, शिवसेना नेता उद्धव ठाकरे ने मीडिया को संबोधित किया। इस दौरान शरद पवार ने साफ कर दिया कि अजित पवार के भाजपा को समर्थन देने के फैसले में उन्हें कोई जानकारी नहीं थी। पवार ने कहा कि अजित पवार कुछ विधायकों के साथ राजभवन पहुंचे, हमें इस बारे में कोई जानकारी नहीं थी। अजित का फैसला पार्टी लाइन के खिलाफ है और अनुशासनहीनता को बताता है। हम उनके खिलाफ कार्रवाई करेंगे। हमें पता चला है कि 10-12 विधायक उनके पास हैं।

पवार ने कहा, ''3 दलों ने सरकार बनाने का फैसला किया था। शिवसेना को एनसीपी और कांग्रेस ने समर्थन देने की बात कही थी। इन्हें 169 विधायकों का समर्थन मिला था। कुछ मुद्दों को लेकर हमारी बातचीत चल रही थी। हमें सुबह पता चला कि अजित पवार के नेतृत्व में एनसीपी के कुछ सदस्य राजभवन पहुंचे हैं। थोड़ी देर में देखने को मिला कि देवेंद्र फडणवीस और अजित पवार ने शपथ ले ली। ये देखकर मैं खुद आश्चर्य में पड़ गया। कुछ विधायकों को वहां बिना बताए ले जाया गया।'' 

विधायक दल का नया नेता चुना जाएगा- शरद पवार
शरद पवार ने कहा, आज की बैठक में विधायक दल का नया नेता चुना जाएगा। उन्होंने कहा कि मुझे विश्वास है कि राज्यपाल ने उन्हें बहुमत साबित करने का वक्त दिया होगा. लेकिन वे इसे साबित नहीं कर पाएंगे। इसके बाद हम तीनों पार्टियां मिलकर सरकार बनाएंगे, जैसा कि हमने तय किया है। 

हमें बिना बताए राजभवन ले जाया गया- एनसीपी विधायक
एनसीपी विधायक राजेंद्र शिंगणे ने कहा, अजित पवार ने मुझे कुछ बातचीत के लिए बुलाया। फिर मुझे कुछ विधायकों के साथ राज्यभवन ले गए। इससे पहले हम कुछ समझ पाते, उससे पहले ही शपथ ग्रहण पूरा हो गया। मैं शरद पवार के पास आया। उन्हें सब जानकारी दी। 

पहले ईवीएम अब नया खेल- ठाकरे
उद्धव ठाकरे ने कहा, पहले ईवीएम का खेल खेला जा रहा था, अब ये नया खेल हुआ है। मुझे ऐसा नहीं लगता कि दोबारा चुनाव की जरूरत है। हम सभी जानते हैं कि जब छत्रपति शिवाजी पर पीछे से धोखा या हमला हुआ, उन्होंने क्या किया? 

इससे पहले सुप्रिया सुले उद्धव ठाकरे और उनके बेटे आदित्य ठाकरे को लेने पहुंचीं। 

धोखे से बनी सरकार- एनसीपी
एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा, हमने अटेंडेंस के लिए विधायकों के हस्ताक्षर लिए थे। इस पत्र का शपथ ग्रहण के लिए गलत इस्तेमाल किया गया। ये सरकार धोखे से बनाई है। फ्लोर पर ये सरकार गिर जाएगी। सभी विधायक हमारे साथ हैं।  

महाराष्ट्र में बड़ा उलटफेर हुआ, फडणवीस फिर बने सीएम
महाराष्ट्र में एक बड़े उलटफेर के साथ सत्ता को लेकर 30 दिन से चल रहा सियासी ड्रामा खत्म हो गया। भाजपा के देवेंद्र फडणवीस ने शनिवार सुबह मुख्यमंत्री और एनसीपी के अजित पवार ने डिप्टी सीएम की शपथ ली। माना जा रहा है कि भाजपा को समर्थन देने के बारे में अजित पवार ने एनसीपी प्रमुख शरद पवार को भी इसकी जानकारी नहीं दी। हालांकि, कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि इस बारे में शरद पवार को भी जानकारी थी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios