Asianet News HindiAsianet News Hindi

SOG के नोटिस पर बोले केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह- ऑडियो की प्रमाणिकता दें, मेरे दरवाजे जांच के लिए खुले

राजस्थान में विधायकों की खरीद फरोख्त से जुड़े कथित ऑडियो टेप के मामले में स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) ने केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को नोटिस भेजा है। शेखावत की तरफ उनके सचिव ने इसे रिसीव भी किया।

Notice To Union Minister gajendra singh For Questioning In Rajasthan Horse Trading KPP
Author
Jaipur, First Published Jul 20, 2020, 12:43 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जयपुर. राजस्थान में विधायकों की खरीद फरोख्त से जुड़े कथित ऑडियो टेप के मामले में स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) ने केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को नोटिस भेजा है। शेखावत की तरफ उनके सचिव ने इसे रिसीव भी किया। उधर, राजस्थान सरकार ने हरियाणा सरकार को पत्र लिख इस मामले में जांच में सहयोग देने की मांग की है। 

इस नोटिस को लेकर शेखावत ने खुद ट्वीट कर जानकारी दी। उन्होंने कहा, मैं पहले ऑडियो क्लिप की प्रमाणिकता की जांच करना चाहता हूं कि किनकी अनुमति से ये रिकॉर्ड किए गए। इन्हें किसने रिकॉर्ड किया। पहले वे ये प्रमाणिकता दें। मैं पहले भी कह चुका हूं, मेरे दरवाजे हमेशा किसी भी तरह की जांच के लिए तैयार हूं। 

क्लिप में मेरी आवाज नहीं- शेखावत
 इससे पहले वायरल ऑडियो को लेकर गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि क्लिप फेक है। मैं मारवाड़ी बोलता हूं जबकि इसमें झुंझुनूं टच है। इस ऑडियो में मेरी आवाज नहीं है। उन्होंने कहा, कांग्रेस अपने झगड़े को मेरे मत्थे मढ़ रही है। इस मामले से मेरा कोई वास्ता नहीं है। 

कांग्रेस ने की इस्तीफे की मांग
उधर, कांग्रेस ऑडियो के आधार पर शेखावत से इस्तीफा देने की मांग कर रही है। कांग्रेस का कहना है कि वे पद पर रहकर जांच को प्रभावित कर सकते हैं। इसके अलावा सबूतों से भी छेड़छाड़ कर सकते हैं।

क्या है क्लिप में?
अशोक गहलोत के ओएसडी ने मीडिया में 3 ऑडियो जारी किए थे। दावा है कि इसमें केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, कांग्रेस विधायक भंवरलाल शर्मा, विश्वेन्द्र और संजय सौदेबाजी कर रहे हैं। हालांकि, शेखावत और भंवरलाल ने इसे फर्जी करार देते हुए कांग्रेस पर ओछी राजनीति करने का आरोप लगाया। इससे पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी सचिन पायलट और भाजपा पर सरकार गिराने की कोशिश करने का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि उनके पास इसके सबूत भी हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि गहलोत इन्हीं ऑडियो का जिक्र कर रहे हों।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios