Asianet News HindiAsianet News Hindi

150 कुत्तों को जहर देकर मारने का आरोप, एक्टिविस्ट ने कहा- कुछ जिंदा बचे तो उन्हें जल्दबाजी में दफना दिया गया

ऑटो नगर डंपसाइट में 150 से अधिक आवारा कुत्तों को कथित तौर पर जहर देने और फिर उन्हें जल्दबाजी में दफनाने का मामला सामने आया है। मामले का खुलासा तब हुआ जब एक एक्टिविस्ट ने  ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) की गाड़ी का पीछा किया, जो डंपयार्ड तक जा रही थी।
 

Over 150 dogs poisoned in Hyderabad
Author
New Delhi, First Published Aug 31, 2019, 6:12 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हैदराबाद. ऑटो नगर डंपसाइट पर 150 से अधिक आवारा कुत्तों को कथित तौर पर जहर देने और फिर उन्हें जल्दबाजी में दफनाने का मामला सामने आया है। मामले का खुलासा तब हुआ जब एक एक्टिविस्ट ने ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) की गाड़ी का पीछा किया, जो डंपयार्ड तक जा रही थी। एलबी नगर पुलिस स्टेशन में एक्टिविस्ट ने यह कहते हुए शिकायत दर्ज कराई कि उन कुत्तों को पशु जन्म नियंत्रण केंद्र में मार दिया गया था, लेकिन जीएचएमसी ने आरोपों से इनकार किया। 

जिंदा थे चार कुत्ते : विक्रम चांडक

- हैदराबाद सोसाइटी फॉर द प्रिवेंशन ऑफ क्रुएल्टी टू एनिमल्स (GHSPCA) के विक्रम चांडक ने कहा कि टीएस 09 यूबी 5847 नंबर की गाड़ी 150 कुत्तों के शवों को ले जा रही थी। इसके बाद उन्होंने गाड़ी का पीछा किया। 

- उन्होंने कहा, जब वे दफनाने वाली जगह पर गए तो देखा कि चार कुत्ते जिंदा था। कुछ कुत्तों को ठीक से दफन भी नहीं किया गया था। उनमें से अधिकांश ऐसे दिखते थे जैसे वे पहले से ही सड़ रहे हो। चंदक ने कहा कि कुछ कुत्ते जो अभी जिंदा थे, उन्हें मरे हुए जानवरों के साथ उसी गाड़ी में रखा गया था। 

इलाज के लिए ब्लू क्रॉस भेजे गए कुत्ते
 

- उन्होंने कहा कि चार कुत्ते जिंदा थे। एक कुत्ता गड्ढे से बच गया और उसे इलाज के लिए ब्लू क्रॉस भेज दिया गया, लेकिन बाकी की मौत हो गई।

- एचएमसी के मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी वेंकटेश्वर रेड्डी ने कहा,"ये सभी कुत्ते शहर के विभिन्न स्थानों पर मृत पाए गए थे। कर्मचारियों ने उन कुत्तों को सड़क से हटाने का काम किया।"  जब उनसे जीवित कुत्तों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, लोगों के कहने पर उन्हें ले जाया गया। लेकिन शवों को ले जाने के बाद उन्हें (जिंदा कुत्तों को) पशु चिकित्सक के पास ले जाया जाएगा। हालांकि जीएचएमसी ने इस बारे में साफ-साफ जवाब नहीं दिया।

- दक्षिण भारत में हाल के इतिहास में यह एकमात्र घटना नहीं है जहां कुत्तों की कथित सामूहिक हत्या हुई है। केरल के मलप्पुरम में कम से कम 15 आवारा कुत्तों को मौत के घाट उतार दिया गया था। घटना मंजरी बाईपास रोड के पास थुरक्कल क्षेत्र में पिछले गुरुवार को हुई थी। कार्यकर्ताओं का दावा है कि यह कथित तौर पर मंजरी नगरपालिका अधिकारियों के जानकारी में किया गया था। यह खबर तब सामने आई जब एक वाहन में 15 कुत्तों के शव देखे गए। द ह्यूमेन सोसाइटी इंटरनेशनल के एक अधिकारी ने इस हत्या की निंदा करते हुए कहा कि कुत्ते नुकसान पहुंचाने वाले नहीं थे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios