फ्रिज ढूंढ़ते हुए 'कातिलों' तक पहुंची पुलिस, बेटे के साथ मिल निकम्मे-अय्याश तीसरे पति के कर दिए टुकड़े-टुकड़े

| Nov 29 2022, 12:27 PM IST

फ्रिज ढूंढ़ते हुए 'कातिलों' तक पहुंची पुलिस, बेटे के साथ मिल निकम्मे-अय्याश तीसरे पति के कर दिए टुकड़े-टुकड़े

सार

पूर्वी दिल्ली के पांडव नगर इलाके में एक महिला द्वारा बेटे की मदद से  पति की हत्या करने का राज़ फ्रिज में मिले अहम सुराग के जरिये खुला। हालांकि दिल्ली पुलिस शव के टुकड़े करने के लिए इस्तेमाल किए गए हथियार अभी तक बरामद नहीं कर पाई है। पढ़िए कैसे हुआ इस मर्डर मिस्ट्री का खुलासा...

नई दिल्ली. पूर्वी दिल्ली के पांडव नगर इलाके में एक महिला द्वारा बेटे की मदद से  पति की हत्या करने का राज़ फ्रिज में मिले अहम सुराग के जरिये खुला। हालांकि दिल्ली पुलिस शव के टुकड़े करने के लिए इस्तेमाल किए गए हथियार अभी तक बरामद नहीं कर पाई है। अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि  कल्याणपुरी निवासी अंजन दास (45) की 30 मई को उसकी पत्नी पूनम (48) और सौतेले बेटे दीपक (25) ने हत्या कर दी थी, जिन्हें सोमवार को पूर्वी दिल्ली के पांडव नगर इलाके से गिरफ्तार किया गया था।

श्रद्धा मर्डर केस की जांच के बीच सामने आई ये मर्डर मिस्ट्री, पढ़िए 12 बड़े पॉइंट
1. एक सीनियर पुलिस अधिकारी ने मंगलवार को कहा कि हत्या के हथियार अभी बरामद नहीं हो पाए हैं। आगे की जांच की जा रही है।दोनों आरोपी फिलहाल पुलिस हिरासत में हैं।

Subscribe to get breaking news alerts

2. इस जघन्य अपराध की शुरुआत पारिवारिक कलह से हुई थी। अंजन दास के बारे में कहा जा रहा है कि वो अपनी सौतेली बेटी और दीपक की पत्नी के प्रति गलत नीयत रखता था। यही नहीं, वो पूनम की कमाई को बिहार में अपनी दूसरी पत्नी और 8 बच्चों को भी भेज रहा था।

3. पूनम इलाके में घरेलू सहायिका का काम करती है। पुलिस ने बताया कि पूनम ने अप्रैल में अपने बेटे दीपक की मदद से दास को खत्म करने की साजिश रची थी। दोनों ने 30 मई को उसे नींद की गोलियां मिलाकर शराब पिलाई। पुलिस ने कहा कि मां-बेटे ने दास की गर्दन, छाती और पेट पर चाकू से वार किए। हत्या के बाद शव को एक कमरे में रख दिया गया।

4. मर्डर के अगले दिन सुबह तक जब डेड बॉडी से खून निकल गया, तो फिर उन्होंने उसके 10 टुकड़े करके फ्रिज में रख दिए। पुलिस ने कहा कि आरोपी ने अगले तीन से चार दिनों में इन शरीर के अंगों को फेंक दिया। अब तक पुलिस को शरीर के 6 अंग मिले हैं। मृतक का धड़ और हाथ अभी बरामद नहीं हुआ है।

5.यह मामला 26 वर्षीय श्रद्धा वालकर की हत्या के समान है। वाकर को उसके 28 वर्षीय लिव-इन पार्टनर आफताब पूनावाला ने कथित तौर पर गला घोंटकर मार डाला था। फिर उसके शरीर के 35-36 टुकड़े जंगल में डंप करने से पहले दक्षिण दिल्ली के महरौली में अपने आवास पर लगभग तीन सप्ताह तक 300 लीटर फ्रिज में रखे थे। दिल्ली पुलिस ने पूनावाला को 12 नवंबर को गिरफ्तार किया था। 

6. दिल्ली मर्डर मिस्ट्री श्रद्धा हत्याकांड की जांच के चलते ही सामने आई। पुलिस को रामलीला मैदान से लगातार इंसानी मांस के टुकड़े मिल रहे थे। मामले की जांच क्राइम ब्रांच ने अपने हाथों में ली। करीब 5 महीने की जांच-पड़ताल के बाद इस हत्याकांड से पर्दा उठा है।

7. पांडव नगर के रामलीला मैदान से लाश के टुकड़े मिल रहे थे, लिहाजा पुलिस ने आसपास की बस्तियों में फ्रिज की जांच-पड़ताल शुरू की। लोगों से पूछताछ भी की, कहीं किसी को बदबू तो नहीं आ रही?

8. पुलिस को सबसे पहले शक रामलीला मैदान के सामने स्थित ब्लॉक-20 के निवासियों पर हुआ। तब पुलिस ने घर-घर जाकर फ्रिज की तलाशी ली। बता दें कि इस ब्लॉक में 500 मकान हैं। इससे आकलन किया जा सकता है कि पुलिस को जांच करने में कितनी कठिनाई आई होगी।

9.जब पुलिस इस मामले की जांच कर रही थी, इसी बीच श्रद्धा मर्डर मामला सामने आया। लिहाजा इस मामले को भी पुलिस को प्रायोरिटी पर रखना पड़ा। पुलिस ने सबसे पहले जांच कराई कि कहीं लाश के ये टुकड़े श्रद्धा के तो नहीं है? मालूम चला कि ये किसी पुरुष के हैं।

10.पुलिस ने सैकड़ों CCTV फुटेज खंगाले। इनमें से कुछ में अंजन की पत्नी और बेटे कुछ फेंकने के लिए जाते दिखे। पुलिस ने जांच की, तो पता चला कि अंजन दास गायब है। बस यहीं से पुलिस को हुआ। 

11. शुरुआत में मां-बेटे ने पुलिस को गुमराह करने की काफी कोशिश की, लेकिन बाद में टूट गए। पुलिस के मुताबिक पूनम ने अंजन से तीसरी शादी की थी। दूसरी शादी से उसके तीन बच्चे हैं।

12. अंजन की पूनम से दूसरी शादी थी। पूनम को अंजन की पहली शादी के बारे में पता नहीं था। अंजन कोई काम नहीं करता था। वो पूनम के पैसों पर जिंदगी जी रहा था।

यह भी पढ़िए
दिल्ली मर्डर केस: बहू-बेटी पर गंदी नजर रखता था 8 बच्चों का बाप, दूसरी बीवी ने बेटे संग मिलकर उतारा मौत के घाट
10 Shocking Facts: आफताब कितना और झूठ बोल रहा, इसका पता करने पुलिस ने निकाला अब ये तरीका

बच्ची भूख से रो रही थी, बेरोजगार और बिटकॉइन में डूबे पिता ने उसे सीने से ऐसे दबाया कि तड़पकर मर गई मासूम