Asianet News Hindi

टीचर ने बच्चों से कहा- कोई स्पेशल गेस्ट आने वाला है...किसी को अंदाजा नहीं था कि वो PM होंगे...

बच्चों के साथ अचानक हुए इस संवाद में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मुझे विश्वास है कि आप इस देश को नई उंचाइयों तक पहुंचाएंगे। स्कूल या काॅलेजों में जिस तरह टीम भावना के सिखाई जाती है हमने उसी स्पिरिट के साथ मिलकर कोरोना को मात दी है। आज हर भारतीय कह रहा है कि हम महामारी से जीतेंगे।

PM Modi suprised interaction with CBSE students and Parents, Know all about DHA
Author
New Delhi, First Published Jun 3, 2021, 7:21 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। पीएम मोदी ने सीबीएसई 12वीं की परीक्षा कैंसिल होने के बाद स्टूडेंट्स और उनके माता-पिता से बात की है। व्यस्ततम शेड्यल के बीच पीएम मोदी के इस अचानक किए गए बातचीत से स्टूडेंट्स और अभिभावक बेहद खुश हुए। स्टूडेंट्स को यह अंदाजा ही नहीं था कि उनका स्पेशल गेस्ट देश का पीएम होगा। बातचीत के बाद स्टूडेंट्स जोश और कंफिडेंस में दिखे। अभिभावक भी बातचीत के बाद संतुष्ट हुए। 

जब स्पेशल गेस्ट को देखा तो खुश हो गए सभी

स्टूडेंट्स से सरप्राइज इंटरेक्शन करने के लिए वीडियो कांफ्रेंसिंग से जुड़े पीएम मोदी का नाम लिए बगैर टीचर ने कहा कि आपके बीच एक स्पेशल गेस्ट आने वाले हैं। जब स्क्रीन पर पीएम आए तो बच्चे खुशी से उछल पड़े। सभी ने नमस्ते किया। 

पीएम से खूब खुलकर बात किया स्टूडेंट्स ने

वीडियो कांफ्रेंसिंग से जुड़ते ही पीएम मोदी ने बच्चों को इजी करने के लिए कहा कि एग्जाम कैंसिल होने से टेंशन खत्म हुई या नहीं। पूछा कि अब आप लोग क्या-क्या कर रहे हैं। एक स्टूडेंट से पूछा कि आप तो टाॅपर थे तो आपको तो बुरा लग रहा होगा। इस पर पंचकुला का रहने वाला हितेश्वर शर्मा ने कहा कि नहीं सर आपने बेहतरीन निर्णय लिया है। जीवन में परीक्षा तो कई बार देना है। ज्ञान अगर है तो वह तो आपके ही पास रहेगा न। आपका निर्णय बेहतर रहा और इससे प्रेशर काफी कम हुआ है। 
पीएम ने एक स्टूडेंट से पूछा कि माॅस्क कई लोग नहीं पहनते। वह लोग कहते हैं कि उनको डर नहीं। आप लोग क्या सोचते हैं। इस पर एक स्टूडेंट ने कहा कि सर, यह काफी डिस्अप्वाइंटिंग लगता है। उसने बताया कि वह अवेयरनेस के लिए नुक्कड़ नाटक आदि भी अपने गु्रप के साथ करती रही है। 
पीएम ने स्टूडेंट्स से पूछा कि परसो तक तो आप लोग मूड में थें कि पढ़ेंगे। अचानक से सब चला गया। अब उस वैक्यूम को कैसे भर रहे हैं। 
इस पर एक स्टूडेंट ने कहा कि सर, इससे दूसरे एग्जाम की तैयारी के लिए मदद मिल गया। अब हम प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर सकेंगे। 

आपने कहा था परीक्षा को त्योहार की तरह मनाओ

गुवाहाटी की साक्षी ने कहा कि परीक्षा से डर नहीं लगता है। एक बार कोलकाता से आते समय मैंने आपकी किताब खरीदी थी। उसमें आपने कहा था कि परीक्षा को त्योहार की तरह मनाओ तो त्योहार को मनाने के लिए डर की कहां आवश्यकता है। 

यह जीवन की अंतिम परीक्षा नहीं थी, डिसीजन बेस्ट

कर्नाटक के नंदन हेगड़े ने कहा कि मैंने सोचा यह परीक्षा जिंदगी की अंतिम परीक्षा थोड़े न है। स्वास्थ्य बचा रहेगा तो बहुत परीक्षा दे सकेंगे। 
पीएम ने पूछा कि अब एग्जाम से फ्री होने के बाद क्या करोगे आईपीएल देखोगे, कि ओलंपिक या चैपियंस लीग के बारे में सोच रहे। या कहीं और मन लगेगा। स्टूडेंट्स ने कहा कि सबमें मन लगेगा। 

पीएम ने पूछा तुम लोगों के दिमाग से एग्जाम नहीं जाता

एक स्टूडेंट ने परीक्षा कैंसिल करने के लिए धन्यवाद दिया और बताया कि अब उसके पास पूरा समय कंपटेटिव एग्जाम की तैयारी में लग सकेगा। इस पर उन्होंने हंसते हुए कहा कि दिमाग से तुम लोगों के एग्जाम जाता नहीं है क्या। 

सर सलामत तो पगड़ी हजार

बेंगलुरू के स्टूडेंट अभिराम ने पीएम मोदी के निर्णय पर धन्यवाद देते हुए कहा कि सर सलामत तो पगड़ी हजार। तो पीएम मोदी ने कहा कि हेल्थ इज वेल्थ। फिर उन्होंने पूछा कि सर सलामत का मतलब केवल दिमाग की बात कर रहे हो या फिजिकल फिटनेस के लिए भी कुछ करते हो। तो उसने बताया कि वह और उसका भाई आधा घंटा रोज योगा करते हैं। उसने बताया कि माइंड फ्रेश रखने के लिए तबला बजाता है। पीएम ने पूछा कि परिवार में संगीत वाले लोग हैं क्या तो उसने बताया कि मां भी सितार बजाती थीं। फिर हंसते हुए उन्होंने पूछा कि योग और जो जो करते हो उसके बारे में तुम्हारे परिवारवालों से पूछूंगा। 
सोलोन की कशिश नेगी ने कहा कि डेढ़ साल से हम सब फंसे हुए थे। कोई डेवलपमेंट नहीं था। एग्जाम कैंसिल होने से एक डिसिजन तो आया। 
जयपुर की जन्नत साक्षी ने कहा कि स्टूडेंट्स हित में यह निर्णय बेहद अच्छा है। 

खाली समय में बनाया यूट्यूब चैनल

एक स्टूडेंट ने बताया कि उसने और उसके साथी ने मिलकर तमन्ना शर्मिली नाम से यूट्यूब चैनल बनाया है। इस पर शार्ट वीडियो और कविताओं का वीडियो अपलोड किया है। पीएम इस पर बहुत खुश हुए। 

खूब सोयी हूं अगले दिन

पीएम मोदी ने पूछा कि परीक्षा कैंसिल होने के बाद क्या किया तो एक स्टूडेंट ने बताया कि वह अगले दिन खूब सोयी थी। एक ने कहा कि फैमिली के साथ समय बढ़िया बीत रहा तो पीएम ने मजाक करते हुए कहा कि अब देखना जल्दी ही घरवाले नाराज होंगे। यह काम नहीं किया, वह नहीं कर रहे हो। तब कहना अच्छा समय बीत रहा। 

अभिभावकों ने भी कहा कि डिसिजन बेहद अच्छा

स्टूडेंट्स से इंटरेक्शन के बीच उन्होंने सबके अभिभावकों से भी बात की। सभी ने इस निर्णय को सबसे बेस्ट निर्णय बताया। एक स्टूडेंट की मां ने कहा कि शाहरूख खान से मिलने से भी बढ़िया आपसे मिलना लगा। आप बेस्ट हैं। 

75वीं वर्षगांठ पर अपने जिले के सेनानियों पर निबंध लिखें

पीएम मोदी ने कहा कि आजादी का 75वां साल है। क्या आप एक निबंध लिख सकते हैं पूरी रिसर्च के साथ कि आजादी में आपके जिले का क्या योगदान रहा है। 

पीएम बोले- देश का युवा पाॅजिटिव और प्रैक्टिकल

संवाद के अंत में पीएम मोदी ने कहा कि बातचीत बहुत अच्छा लगा। आपने बिना झिझक बात की यह सराहनीय है। उन्होंने कहा कि भारत का युवा पाॅजिटिव भी है और प्रैक्टिकल भी है। यह सबसे अच्छी बात है कि आप हर चैलेंज को ताकत बना लेते हैं। घर में रहकर युवाओं ने जितने इनोवेशन किए हैं, नई चीजे सीखी हैं, उससे सेल्फ कंफिडेंस बिल्डअप हुआ है। कठिन से कठिन समय को बार बार याद कर रोने चिलाने में समय बर्बाद करते न रहिए, उसको ताकत बनाकर आगे बढ़िए। उन्होंने कहा कि आपने स्कूल में टीम स्पीरिट सीखी होगी। भारत की जनता ने उसी स्पीरिट से एक दूसरे का हाथ थामकर इस महामारी से पूरे देश को उबारा है और जीत दिलाई है। 
पीएम ने कहा कि अभी एक बच्ची से बात कर रहा था, उसने दो लोगों को परिवार में खोया है। लेकिन उसकी आंखों में विश्वास झलक रहा है। हम विजयी होकर निकलेंगे। हर भारतीय के मुंह से एक ही आवाज निकल रही है कि हम जीतेंगे। 

Asianet News का विनम्र अनुरोधः आईए साथ मिलकर कोरोना को हराएं, जिंदगी को जिताएं... जब भी घर से बाहर निकलें माॅस्क जरूर पहनें, हाथों को सैनिटाइज करते रहें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। वैक्सीन लगवाएं। हमसब मिलकर कोरोना के खिलाफ जंग जीतेंगे और कोविड चेन को तोडेंगे। #ANCares #IndiaFightsCorona

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios