Asianet News Hindi

22 दिसंबर को अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के शताब्दी समारोह को संबोधित करेंगे पीएम मोदी

 प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी 22 दिसंबर को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सुबह 11 बजे अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के शताब्दी समारोह को संबोधित करेंगे। आयोजन के दौरान प्रधानमंत्री एक डाक टिकट भी जारी करेंगे। इस मौके पर यूनिवर्सिटी के कुलपति सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन और केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक भी मौजूद रहेंगे।

PM Modi will be speaking at centenary celebrations of the Aligarh Muslim University 22nd December KPP
Author
New Delhi, First Published Dec 21, 2020, 8:37 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी 22 दिसंबर को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सुबह 11 बजे अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के शताब्दी समारोह को संबोधित करेंगे। आयोजन के दौरान प्रधानमंत्री एक डाक टिकट भी जारी करेंगे। इस मौके पर यूनिवर्सिटी के कुलपति सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन और केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक भी मौजूद रहेंगे।

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी 1920 में भारतीय विधान परिषद के एक अधिनियम के माध्यम से एक विश्‍वविद्यालय बना। इस अधिनियम के तहत मोहम्मडन एंग्लो ओरिएंटल (एमएओ) कॉलेज को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा देकर एक यूनिवर्सिटी बनाया गया। एमएओ कॉलेज की स्थापना 1877 में सर सैयद अहमद खान ने की थी। उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ शहर में बनी यह यूनिवर्सिटी 467.6 हेक्टेयर भूमि में फैली है। इसके तीन अन्‍य परिसर केन्‍द्र मलप्पुरम (केरल), मुर्शिदाबाद-जंगीपुर (पश्चिम बंगाल) और किशनगंज (बिहार) में हैं।
 


अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव को भी करेंगे संबोधित
इसके अलावा पीएम मोदी 22 दिसंबर की शाम 4.30 बजे भारतीय अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव (आईआईएसएफ) में उद्घाटन सत्र को संबोधित करेंगे। इस मौके पर केन्द्रीय मंत्री डॉ. हर्ष वर्धन भी मौजूद रहेंगे। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय और पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय विजनाना भारती के साथ मिलकर समाज में वैज्ञानिक मनोवृत्ति को प्रोत्साहन देने के लिए भारतीय अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव का आयोजन करता है। इसकी शुरुआत 2015 में हुई थी। इसका उद्देश्य जनता को विज्ञान से जोड़ना, विज्ञान की खुशी को मनाना और यह दिखाना कि कैसे विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग और गणित (एसटीईएम) जीवन में सुधार के लिए समाधान उपलब्ध करा सकते हैं। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios