Asianet News Hindi

कृषि बिल का विरोध करना वालों पर बरसे पीएम मोदी, कहा- 'किसानों के कंधे पर बंदूक रखकर चला रहे हैं'

भारतीय जनसंघ के जनक रहे पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती के मौके पर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं के संबोधित किया। कृषि बिल जब से राज्यसभा में पास हुआ तभी से विपक्ष हंगामा कर रहा है। 

Pm narendra Modi Speaks on Krishi bill live Speech deen Dayal upadhyay jayanti KPY
Author
New Delhi, First Published Sep 25, 2020, 11:58 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. भारतीय जनसंघ के जनक रहे पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती के मौके पर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं के संबोधित किया। कृषि बिल जब से राज्यसभा में पास हुआ तभी से विपक्ष हंगामा कर रहा है। इसे बाद किसान भी इस बिल के विरोध में सड़कों पर उतर आए और 25 सितंबर को उन्होंने भारत बंद का ऐलान कर दिया। पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती के मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि 'कोरोना संकट काल में पार्टी के कार्यकर्ताओं ने लोगों की सेवा की, कुछ कोरोना से संक्रमित हुए और कुछ की जान भी चली गई।

कृषि बिल का विरोध करने वाले विपक्ष पर बरसे पीएम मोदी 

कृषि बिल का विरोध कर रहे विपक्ष पर पीएम मोदी बरसे और संबोधन में कहा कि 'बीते दिनों में हमारी सरकार ने युवा और किसानों के लिए ऐतिहासिक फैसले लिए हैं।' पीएम बोले कि 'लोगों के जीवन में सरकार जितना कम दखल देगी, उतना बेहतर होगा। आजादी के कई साल बाद तक किसानों के नाम पर कई नारे लगे, लेकिन उनके नारे खोखले थे।'

छोटे किसानों को अधिका फायदा होगा: पीएम मोदी 

पीएम मोदी ने कहा कि 'कृषि बिल से छोटे किसानों को सबसे अधिक फायदा होगा। अब किसान की मर्जी है कि वो कहीं पर भी फसल बेच सकता है, जहां पर किसान को अधिक दाम मिलेगा वो वहां बेच सकेगा। बीजेपी के कार्यकर्ताओं को आसान भाषा में किसानों को समझाना होगा।' मोदी ने कहा कि 'जिन्होंने किसानों से झूठ बोला, अब वो किसान के कंधे पर बंदूक रखकर चला रहे हैं। ये लोग झूठ फैलाकर किसान को बरगला रहे हैं।' 

पीएम आगे कहते हैं कि 'कुछ लोगों ने राष्ट्रहित के बजाय खुद के हित को सर्वोपरि रखा है। किसानों को कानूनों में उलझाकर रखा गया, जिसकी वजह से वो अपनी फसल कहीं बेच नहीं पा रहा था।' पीएम ने कहा कि 'हमने MSP में रिकॉर्ड बढ़ोतरी की। अबतक एक लाख करोड़ रुपए से अधिक किसानों को दिए जा चुके हैं।' पीएम ने कहा कि 'यूपीए सरकार ने सिर्फ 20 लाख करोड़ का ऋण किसानों को दिया था, लेकिन हमारी सरकार ने 35 लाख करोड़ से अधिक का लोन दिया।

श्रम कानूनों पर बोले पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 'किसानों की तरह मजदूरों के साथ भी वर्षों तक धोखा किया गया। अब एक राज्य से दूसरे राज्य में जाने वाले मजदूरों के स्वास्थ्य के लिए काम किया गया है, दिहाड़ी के समय को निर्धारित किया गया है, नए कानून में पेंशन की बात भी है। साथ ही न्यूनतम वेतन को एक स्तर पर लाने की कोशिश है।' पीएम ने कहा कि 'अब महिला मजदूरों को भी समान मानदेय मिलेगा।' 

मोदी बोले कि 'देश के अलग-अलग हिस्से में पार्टी के कार्यकर्ता दिन-रात लोगों की सेवा में जुटे रहे।' पीएम ने कहा कि 'दीनदयाल जी ने ही भारत की राष्ट्रनीति, अर्थनीति पर मुखरता से अपनी बात कही थी। जब आजाद भारत निर्माण के लिए विदेशी मॉडल को अपनाने पर जोर था, उस वक्त दीनदयाल जी ने भारत के स्वयं के मॉडल की बात कही थी।' 

370 और राम मंदिर पर बोले पीएम 

पीएम मोदी अपने संबोधन में कहा कि 'कुछ ही वक्त में हमने दशकों से चले आ रहे मामलों को निपटाया है। हमारी सरकार ने अनुच्छेद 370 और राम मंदिर के वादे को पूरा किया।' पीएम ने आगे कहा कि बीजेपी के कार्यकर्ता भी स्थानीय उत्पादों पर जोर दें, वोकल फॉर लोकल के लिए जरूरी है। बीजेपी के कार्यकर्ता देश के हर हिस्से में सत्र बुलाएं और शिक्षा नीति के बारे में बताएं।' भारतीय जनता पार्टी के मुख्य कार्यालय पर ये कार्यक्रम हुआ। जहां बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत पार्टी के बड़े नेता शामिल रहे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios