Asianet News Hindi

राहुल गांधी पर स्मृति ईरानी का पलटवार, बोलीं- देश तोड़ने वालों का समर्थन कर रहे पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष

कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन जारी है। इसी बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक बार फिर कृषि कानूनों को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा। राहुल गांधी ने कहा, सरकार को किसानों से बात करनी चाहिए और उन्हें कोई समाधान देना चाहिए। 

Rahul Gandhi says Govt destroying livelihood of farmers through the new agri laws KPP
Author
New Delhi, First Published Jan 29, 2021, 5:03 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन जारी है। इसी बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने एक बार फिर कृषि कानूनों को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा। राहुल गांधी ने कहा, सरकार को किसानों से बात करनी चाहिए और उन्हें कोई समाधान देना चाहिए। किसानों के साथ अपराधियों जैसा व्यवहार हो रहा है। पीएम मोदी को उनसे बात करनी चाहिए और कृषि कानूनों को वापस लेना चाहिए। राहुल की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने पलटवार किया।

राहुल गांधी ने तीनों कानूनों को किसान विरोधी बताया। राहुल गांधी ने कहा, पहला कानून- मंडी सिस्टम खत्म करेगा। दूसरे कानून से कालाबाजारी बढ़ेगी। तीसरे कानून के मुताबिक, किसान कोर्ट नहीं जा सकते। 

लोगों को लालकिले में क्यों घुसने दिया गया?
राहुल गांधी ने लालकिले में तिरंगा फहराए जाने को लेकर भी सवाल उठाया। राहुल ने पूछा, लोगों को लालकिले में क्यों घुसने दिया गया। उन्हें क्यों नहीं रोका गया। क्या गृह मंत्रालय का काम नहीं है, कि उन्हें वहां जाने से पहले रोकना चाहिए था। उन्हें किसने अंदर जाने दिया। गृह मंत्री से पूछिए। उन्हें अंदर जाने के पीछे क्या आइडिया था। 

किसान आप एक इंच पीछे मत हटिए- राहुल गांधी
राहुल ने कहा, मैं किसानों से कहना चाहता हूं हम सब आपके साथ हैं। एक इंच पीछे मत हटिए, ये आपका भविष्य है। ये जो 5-10 लोग आपका भविष्य चोरी करने की कोशिश कर रहे हैं, इन्हें मत चोरी करने दीजिए, हम आपकी पूरी मदद करेंगे। 

स्मृति ईरानी ने किया पलटवार
स्मृति ईरानी ने कांग्रेस नेता पर निशाना साधते हुए कहा, राहुल गांधी ने ऐलान कर दिया कि 26 जनवरी को जो हिंसा देश ने दिल्ली में देखा, उनका मानना है कि वही हिंसा देश के हर राज्य तक जनता देख पाएगी। भारत की राजनीति में पहली बार शांति का आह्वान करने की जगह, अराजक तत्व आग कैसे लगाएं, उसकी अपील करते हुए आज कांग्रेस के नेता को देश ने देखा।

पुलिसकर्मियों के लिए नहीं है संवेदना
उन्होंने कहा, 26 जनवरी को देश ने जो देखा, उसमें 300 से ज्यादा पुलिसकर्मी घायल हुए। यहां तक की राष्ट्र ने वह भी दृश्य देखा, जहां महिला पुलिसकर्मियों को घेरकर उन्हें मारने का प्रयास किया गया। मीडिया कर्मियों और पुलिसकर्मियों पर ट्रैक्टर चढ़ाने की कोशिश की गई। लेकिन उनके लिए राहुल गांधी के मुख से एक भी शब्द संवेदना के नहीं आए। 

स्मृति ईरानी ने कहा, राहुल गांधी ऐसे नेता जो चाहते हैं कि देशभर में कानून व्यवस्था बिगड़ जाए। वे चाहते हैं कि देश में अराजक तत्व ना सिर्फ तिरंगे का अपमान करें, बल्कि देश को भी तोड़ने का काम करें। राहुल गांधी के जितने मंसूबे हैं, उन्हें मिलकर नाकाम करने हैं।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios