Asianet News HindiAsianet News Hindi

इथियोपिया क्रैश के बाद जो बोइंग 737 मैक्स हुआ था बैन, उसी में सिंधिया ने किया दिल्ली से ग्वालियर का सफर

इथियोपिया (Ethiopia) दुर्घटना में 157 मौतों के बाद बोइंग 737 मैक्स (Boeing 737 max) विमान (Aircraft) को  भारत समेत कई देशों ने बैन कर दिया था। कंपनी ने इसके सॉफ्टवेयर (Software) में तमाम सुधार किए हैं, जिसके बाद 33 देशों में इसकी सेवाएं शुरू हो गई हैं।

Scindia Boing 737max Aircraft DGCA Aviation Spicejet Delhi Gwalior
Author
New Delhi, First Published Nov 23, 2021, 7:43 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंगलवार को बोइंग 737 मैक्स एयरक्राफ्ट का सफर किया। दिल्ली से ग्वालियर के बीच यह स्पाइसजेट की विशेष उड़ान थी। बोइंग 737 मैक्स वही एयरक्राफ्ट है, जो 10 मार्च 2019 को अदीस अबाबा के पास क्रैश हो गया था। इथोपियन एयरलाइंस के इस प्लेन क्रैश में 157 लोग मारे गए थे। 13 मार्च 2019 से इस प्लेन की सेवाएं भारत में बंद थीं। ढाई साल बाद इसकी सेवाएं शुरू की गई हैं। मंगलवार को बोइंग 737 मैक्स में सिंधिया के साथ, स्पाइसजेट के सीएमडी अजय सिंह और बोइंग इंडिया के अध्यक्ष सलिल गुप्ते भी मौजूद थे। सिंधिया की उड़ान एसजी 9945 दोपहर 2:50 बजे दिल्ली से उड़ी और दोपहर लगभग 3:50 बजे ग्वालियर हवाई अड्डे पर उतरी। 

भारत में सिर्फ Spicejet के बेड़े में ये विमान 
देश में मैक्स विमानों के एकमात्र ऑपरेटर स्पाइसजेट ने 2017 में बोइंग के साथ 205 मैक्स विमानों के लिए 22 अरब डॉलर का सौदा किया था। अभी इसके बेड़े में इनमें से 13 विमान हैं। पिछले ढाई साल में बोइंग ने अपने सॉफ्टवेयर में कई सुधार किए थे, जिसके बाद अमेरिकी एविएशन अथॉरिटी समेत कई देशों ने इसकी उड़ानों को अनुमति दे दी थी। इस साल 26 अगस्त को डीजीसीए (DGCA)ने मैक्स विमानों की कॉमर्शियल उड़ानों के संचालन से प्रतिबंध हटा लिया था। 

मॉस्को और तुर्की जैसे स्थानों के लिए उड़ सकता है बोइंग 737 मैक्स
स्पाइसजेट के एमडी अजय सिंह ने कहा कि मैक्स विमानों में हम ब्रॉडबैंड इंटरनेट देने करने जा रहे हैं और यह शुरू में मुफ्त होगा। हालांकि, वॉयस कॉलिंग बंद कर दी जाएगी, क्योंकि इससे अन्य यात्रियों को परेशानी होगी। उन्होंने कहा कि यह विमान मास्को और तुर्की जैसे स्थानों के लिए लंबी दूरी तक उड़ान भर सकता है, जहां पुराना विमान, 737-800 नहीं जा सकता था। यह एयरक्राफ्ट दुनियाभर के अधिकांश देशों में उड़ान भर रहा है और 33 एयरलाइंस वैश्विक स्तर पर इस विमान को उड़ा रही हैं। उन्होंने कहा कि मैक्स विमान स्पाइसजेट के बेड़े की रीढ़ होंगे। सिंह ने कहा कि एयरलाइन जल्द ही बोइंग के टिकाऊ विमानन ईंधन का उपयोग करते हुए मैक्स विमान उड़ाएगी।

यह भी पढ़ें
Up News: मल्टीस्पेशलिटी सरकारी हॉस्पिटल में SGPGI तीसरे नंबर पर, देश में हासिल किया 7वां स्थान
LPG Subsidy : यूपी चुनाव से पहले गृहिणियों को बड़ी राहत, घरेलू सिंलेडर मिल रही 237 रुपए तक सब्सिडी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios