Asianet News HindiAsianet News Hindi

ट्विन टावर्स गिराने में लगेंगे 3500kg विस्फोटक, हटाए जाएंगे 5 हजार लोग, ऐसे ध्वस्त होगी 40 मंजिला विल्डिंग

नोएडा के सेक्टर 93ए में बने सुपरटेक के ट्विन टावर्स को 28 अगस्त को गिरा दिया जाएगा। इसके लिए 3500 किलोग्राम से अधिक विस्फोटक का इस्तेमाल होगा। धमाके से पहले आसपास रहने वाले 5 हजार लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा जाएगा। 

Supertech twin towers demolition Blueprint 3500 kg explosives evacuation of 5K residents vva
Author
New Delhi, First Published Aug 20, 2022, 11:30 AM IST

नोएडा। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद नोएडा के ट्विन टावर्स को गिराने की तैयारी जोर-शोर से चल रही है। नोएडा के सेक्टर 93ए में बने सुपरटेक के ट्विन टावर्स को 28 अगस्त को दोपहर 2:30 बजे गिरा दिया जाएगा। 100 मीटर ऊंची इस बिल्डिंग को मिट्टी में मिलाने के लिए 3500 किलोग्राम विस्फोटक का इस्तेमाल होगा। धमाके से पहले सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए आसपास रहने वाले 5 हजार लोगों को सुरक्षित स्थान पर भेजा जाएगा। 

ट्विन टावर्स के पास रहने वाले लोगों से कहा गया है कि वे 28 अगस्त को सुबह 7:30 घर छोड़कर सुरक्षित स्थान पर चले जाएं। नियमों का उल्लंघन कर बनाए गए इस 40 मंजिला भवन को गिराने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया था। पहले भवन गिराने के लिए 21 अगस्त का दिन तय किया गया था, लेकिन नोएडा अथॉरिटी के निवेदन पर इसे 28 अगस्त तक के लिए बढ़ा  दिया गया। 

एक टावर में विस्फोटक लगाने का काम पूरा
ट्विन टावर्स में से एक टावर सेयेन में विस्फोटक लगाने का काम पूरा हो गया है। अब दूसरे टावर एपेक्स में विस्फोटक लगाने का काम चल रहा है। ट्विन टावर्स के पिलरों में ड्रील कर करीब 9,400 छेद बनाए गए हैं। इनमें 3500 किलोग्राम से अधिक विस्फोटक भरा जाएगा। तय समय पर विस्फोटक की मदद से धमाका किया जाएगा, जिससे बिल्डिंग गिर जाएगी। ट्विन टावर्स गिराने का काम संभाल रहे एडिफिस इंजीनियरिंग के एक इंजीनियर ने बताया कि ट्विन टावर्स गिराने के समय आसपास के मकानों को नुकसान नहीं हो इसके लिए सभी सुरक्षात्मक उपाये किये जा रहे हैं। यह भवन पानी की तरह ढह जाएगा। 

5 हजार लोगों को हटाया जाएगा
ट्विन टावर्स गिराते समय कोई हादसा नहीं हो, इसके लिए आसपास रहने वाले 5 हजार से अधिक लोगों को हटाया जाएगा। करीब के एमराल्ड कोर्ट और एटीएस विलेज सोसायटी के लोगों से कहा गया है कि वे 28 अगस्त को सुबह 7:30 बजे घर छोड़कर सुरक्षित स्थान पर चले जाएं। वे शाम चार बजे के बाद एडिफिस इंजीनियरिंग द्वारा सेफ्टी क्लीयरेंस दिए जाने के बाद अपने घर लौट सकते हैं।

28 अगस्त सुबह 7:30 बजे से शाम 4 बजे तक के लिए एमराल्ड कोर्ट और एटीएस विलेज सोसायटी में रहने वाले लोगों के करीब 1200 वाहनों को भी हटाया जाएगा। नोएडा अथॉरिटी दोनों सोसायटी के लोगों को अपने वाहन रखने के लिए पार्किंग सुविधा उपलब्ध कराएगी। वाहनों को बोटेनिकल गार्डन मेट्रो स्टेशन के पार्किंग में रखा जाएगा। 

यह भी पढ़ें- मुंबई को फिर दहलाने की साजिश: पाकिस्तान से मिली 26/11 जैसे हमले की धमकी, कहा- 6 लोग करेंगे हमला

मलबा रोकने के लिए किया गया इंतजाम
28 अगस्त  को दोपहर 2:15 बजे से 2:45 बजे तक ट्विन टावर्स के पास स्थित नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे बंद रखा जाएगा। 28 अगस्त  को इंसान, गाड़ियों और जानवरों का धमाके के करीब के क्षेत्र में प्रवेश बंद रहेगा। एडिफिस इंजीनियरिंग के पार्टनर उत्कर्ष मेहता ने कहा कि हमने आसपास रहने वाले लोगों के साथ कई बार बैठक की है। वे सुरक्षा के लिए किए जा रहे इंतजाम से संतुष्ट हैं। धमाके के समय उड़ने वाले मलबे और धूल से बचाव के लिए हमने सुरक्षा की तीन परतें लगाई हैं। इसके लिए जाल, कपड़ा और पर्दे लगाए गए हैं। इन तीन परतों द्वारा मलबे को फैलने से रोक दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें-  मनीष सिसोदिया के यहां CBI के छापे के बाद ED की एंट्री के संकेत, जानिए इस करप्शन से जुड़ीं 10 बड़ी बातें

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios