Asianet News Hindi

'तौकते' चक्रवात: 175 किमी/घंटा की स्पीड से बढ़ रही तबाही, कई राज्य हाई डेंजर जोन में, हाई अलर्ट जारी

अरब सागर में एक दबाव बनने से तौकते चक्रवात आगे बढ़ने लगा है। शनिवार की सुबह यह तेज हो सकता है। रात तक यह भीषण चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा। 16 से 19 मई के बीच इसकी स्पीड 150-175 किलोमीटर प्रति घंटा होगा तो ज्यों-ज्यों आगे बढ़ेगा स्पीड बढ़ा सकता है। 18 मई को इसके गुजरात के तटीय क्षेत्र से टकराने की आशंका जताई जा रही है। 

Taukatae Cyclone will move with 175 kmper hour speed, likely to intensify into very severe cyclonic storms DHA
Author
New Delhi, First Published May 14, 2021, 8:23 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। देश के तटीय क्षेत्रों में एक और तूफान की चेतावनी सबको खौफजदा कर रही है। ‘तौकते’ चक्रवात शनिवार के बाद तटीय इलाकों में तबाही मचा सकता है। हालांकि, शनिवार को ही कई क्षेत्रों में भारी बारिश की आशंका जताई गई है। मौसम विभाग ने महाराष्ट्र, गोवा, दक्षिण कोंकण सहित कर्नाटक के कई क्षेत्रों के लिए अलर्ट जारी किया है। 

तेजी से गति बढ़ाएगा तौकते

अरब सागर में एक दबाव बनने से तौकते चक्रवात आगे बढ़ने लगा है। शनिवार की सुबह यह तेज हो सकता है। रात तक यह भीषण चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा। 16 से 19 मई के बीच इसकी स्पीड 150-175 किलोमीटर प्रति घंटा होगा तो ज्यों-ज्यों आगे बढ़ेगा स्पीड बढ़ा सकता है। 18 मई को इसके गुजरात के तटीय क्षेत्र से टकराने की आशंका जताई जा रही है। 

इन क्षेत्रों के लिए जारी हुई चेतावनी

मौसम विभाग ने गुजरात, महाराष्ट्र, गोवा के तटीय क्षेत्रों में ‘तौकते’ के टकराने की आशंका जताते हुए सबको सचेत किया है। 

तौकते का प्रभाव, भारी बारिश झेलेगा यह क्षेत्र

तौकते चक्रवात की वजह शुक्रवार की सुबह दक्षिण-पूर्वी अरब सागर के उपर एक कम दबाव क्षेत्र का बनना है। यह तूफान दक्षिण-पूर्व अरब सागर, लक्षद्वीप समूह क्षेत्र की ओर तेजी से बढ़ सकता है। मौसम विभाग ने चेताया है कि लक्षद्वीप, केरल, कर्नाटक, गोवा, महाराष्ट्र, तमिलनाडु आदि राज्यों में भारी बारिश की आशंका जताई है। 

शनिवार का दिन ला सकता है तबाही

मौसम विभाग के अनुसार शनिवार को चक्रवात आगे बढ़ेगा और यह काफी तबाही मचा सकता है। रविवार तक यह गुजरात के तटीय क्षेत्र से टकराएगा। 

दक्षिण भारत के ये क्षेत्र हाई अलर्ट पर

कर्नाटक में तौकते चक्रवात का सबसे अधिक प्रभाव देखने को मिल सकता है। मौसम विभाग ने अगले दो दिनों तक भारी बारिश और आंधी की आशंका जताई है। दक्षिण कन्नड़, उडुपी, उत्तर कन्नड़, बेल्लारी, बेंगलुरू, चामराज, चिक्काबल्लापुर, चित्रदुर्ग, दामनगिरी, हासन, कोडगु, कोलार, मंडया, मैसूर, रामनगर, शिवमोगा, तुमकुर के लिए अगले 48 घंटे हाई अलर्ट वाले हैं। 

केरल में भारी बारिश से बंधे खोले गए

केरल के कई क्षेत्रों में भारी बारिश हो रही है। बारिश की वजह से बाढ़ जैसी स्थितियां है। समुद्र की ओर निकले मछुवारों को लौटने की चेतावनी जारी कर दी गई थी। बंधों को खोल दिया गया है। नदियों में जलस्तर काफी बढ़ चुका है। समुद्र किनारे रह रहे लोगों के घर उच्च ज्वार की लहरों से रिसने लगे हैं। 

तौकते नाम क्यों पड़ा

नए तूफान का नामकरण म्यांमार से किया गया है। ‘तौकते‘ का मतलब होता है बहुत अधिक शोर करने वाली छिपकली। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios