Asianet News Hindi

महाराष्ट्र पुलिस पर पत्रकारिता करने से रोकने का आरोप, रिपब्लिक मीडिया की टीम को हिरासत में लिया

टीवी न्यूज़ चैनल 'रिपब्लिक भारत' के रिपोर्टर समेत तीन कर्मचारियों को महाराष्ट्र पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने इन्हें चार दिनों के लिए हिरासत में लिया है। महाराष्ट्र पुलिस का आरोप है कि तीनों लोग महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे के रायगढ़ स्थित फार्म हाउस में बिना इजाज़त घुसने की कोशिश कर रहे थे।

Three personnel arrested, including reporter of Republic Bharat, in Maharashtra police custody
Author
Delhi, First Published Sep 9, 2020, 5:49 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. टीवी न्यूज़ चैनल 'रिपब्लिक भारत' के रिपोर्टर समेत तीन कर्मचारियों को महाराष्ट्र पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। इन्हें चार दिनों के लिए पुलिस हिरासत में भेजा गया है। महाराष्ट्र पुलिस का आरोप है कि तीनों लोग सीएम उद्धव ठाकरे के रायगढ़ स्थित फार्म हाउस में बिना इजाज़त घुसने की कोशिश कर रहे थे।

पुलिस के मुताबिक़, गिरफ्तार किए गए रिपब्लिक भारत के कर्मचारियों में चैनल रिपोर्टर अनुज कुमार, वीडियो पत्रकार यशपालजीत सिंह और ड्राइवर प्रदीप दिलीप धनवडे हैं। रिपब्लिक मीडिया समूह का कहना है कि बिना किसी कानूनी कार्रवाई के हमारे कर्मचारियों को चार दिन के लिए जेल में डालना लोकतंत्र की हत्या है। रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क अपनी टीम को न्याय दिलाने के लिए हरसंभव कानूनी मदद लेगा।

रिपब्लिक समूह ने कहा - कभी नहीं बताएंगे सूत्र

रिपब्लिक मीडिया समूह ने कहा कि भारतीय लोकतंत्र के अनुच्छेद 19 (डी) के तहत हर व्यक्ति को भारत में स्वतंत्र रूप से कहीं भी घूमने का अधिकार है। हमें पता चला है कि हमारे कर्मचारियों पर महाराष्ट्र की सरकारी मशीनरी द्वारा गुप्त सूत्रों की जानकारी को उगलवाने का दबाव डाला जा रहा है जिसकी जानकारी हमारे कर्मचारी पुलिस को कभी नहीं देंगे।

कोई भी मुख्यमंत्री ऐसा नहीं कर सकता

मीडिया को लोकतंत्र का चौथा स्तंभ कहा जाता है और देश के किसी भी मुख्यमंत्री के पास यह अधिकार नहीं है कि वह उनके आवास के आसपास के क्षेत्रों में हो रही रिपोर्टिंग करने वालों को जेल में डाल दें। यह लोकतंत्र और रिपोर्टिंग करने के वाले व्यक्ति के अधिकार के ख़िलाफ़ है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios